DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चौकी पर पथराव, देर रात तक चला दबिश का दौर

महँगाई के विरोध में जगदीशपुरा में सुलगी चिनगारी धीरे-धीरे पूरी ताजनगरी को चपेट में ले रही है। सोमवार को जीवनी मंडी (छत्ता) व खंदारी बाईपास पर प्रदर्शन उपद्रव में बदल गया। पुलिस से नोंकझोंक के बाद बेकाबू भीड़ ने दजर्नों वाहनों में तोड़फोड़ के साथ ही उनमें आग लगा दी। एक शराब की दुकान और चप्पल से भरा एक ऑटो भी लूट लिया। खंदारी बाईपास पर प्रदर्शन करने वालों में बच्चों को भी शामिल किया गया था। इन दोनों ही जगहों पर उपद्रव में दो दजर्न लोगों के चुटैल होने की सूचना है।
जीवनी मंडी चौकी के सामने दोपहर करीब दो बजे हंगामा शुरू हुआ। आस-पास की बस्ती की महिलाओं व बच्चों ने जाम लगा दिया। आधे घंटे की नोंकझोंक के बाद पुलिस ने जाम खुलवाया। भीड़ हटते ही पुलिस भी तितर-बितर हो गई। कुछ देर बाद भीड़ ने फिर धावा बोल दिया। जीवनी मंडी चौकी के सामने दो स्कूटर फूंक दिए। सड़क से गुजर रहा चप्पलों से लदा टेंपो व राजनारायण बंसल का अंग्रेजी शराब का ठेका लूट लिया।

चौराहे पर स्थित देशी शराब के ठेके में भी लूटपाट का प्रयास किया। सफलता नहीं मिलने पर यमुना किनारा मार्ग पर गदर काटा गया। पथराव कर दो रोडवेस बजें, दो कारें, सात ट्रकों के शीशे चकनाचूर कर दिए। सड़क पर चीखपुकार मच गई। चंद पुलिस कर्मियों ने भीड़ को खदेड़ने का प्रयास किया तो भीड़ और उत्तेजित हो गई। जीवनी मंडी चौकी पर पथराव कर दिया।

हवा में उछलते ईंट पत्थरों ने सड़क से गुजर रहे आधा दजर्न राहगीरों को जख्मी कर दिया। बवाल की सूचना पर आए फोर्स के भी लेने के देने पड़ गए। जीवनी मंडी और भैरों नाला मार्ग (दो तरफ) से पुलिस पर पथराव किया गया। डेढ़ घंटे तक अराजकता की स्थिति रही। जैसे-तैसे भीड़ पर काबू पाया जा सका। बवाल के दौरान जाम में फंसे लोग हमले की चपेट में आने की आशंका के चलते भयभीत हो गए। बवाल थमने के बाद गिरफ्तारियों का दौर चला। देर रात तक एक दजर्न लोगों को पकड़ लिया गया था।

इधर, खंदारी बाईपास चौराहे पर भी सांसद रामशंकर कठेरिया की पत्नी मृदुला कठेरिया के नेतृत्व में भीड़ प्रदर्शन करने पहुंची। जाम लगा दिया। बीस मिनट तक पुलिस ने कुछ नहीं किया। बाद में हल्का बल प्रयोग कर जाम खुलवाने का प्रयास किया तो भीड़ भड़क गई। एक बस के शीशे तोड़ दिए। पुलिस ने भीड़ को दौड़ा लिया। खंदारी चौराहे से भीड़ भगवती देवी मार्ग पर बापू नगर के सामने पहुंच गई। वहां हंगामा शुरू कर दिया।

यह देख दहशत में आए व्यापारियों ने बाजार बंद कर दिया। पुलिस ने वहां से भीड़ को हटाने का प्रयास किया तो टकराव के हालत बन गए। भीड़ पुलिस पर हमलावर हो गई। अफरा-तफरी में कई महिलाएं सड़क पर गिरकर चुटैल हो गईं। दोनों ही घटनाओं को पुलिस प्रशासन ने गंभीरता से लिया है। डीआईजी ने एसपी सिटी को मुकदमा दर्ज कर उपद्रवियों की गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चौकी पर पथराव, देर रात तक चला दबिश का दौर