DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चीन के साथ मतभेद बातचीत से सुलझ सकते हैं: प्रणब

चीन के साथ मतभेद बातचीत से सुलझ सकते हैं: प्रणब

भारत ने कहा है कि वह सीमा मुद्दों पर चीन के साथ किसी तरह के विवाद की कल्पना नहीं करता और दोनों देश वार्ता के माध्यम से अपने मतभेदों को सुलझाने के लिए राजी हो गये हैं।

वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने रविवार को स्कॉटलैंड में संवाददाताओं से कहा, यह सच है कि सीमा को लेकर चीन के साथ हमारे मतभेद हैं। हम वार्ता के जरिये इन्हें सुलझाने के लिए तैयार हो गये हैं।

भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और उनके चीनी समकक्ष वेन जियाबाओ ने सीमाओं पर शांति बनाये रखने के लिए सहमति जतायी थी।

मनमोहन सिंह और वेन ने अरुणाचल प्रदेश को लेकर चीनी विरोध प्रदर्शनों के बीच 24 अक्टूबर को थाइलैंड में आसियान शिखरवार्ता से इतर मुलाकात की थी। दोनों इस आम सहमति पर पहुंचे थे कि दोनों पड़ोसी देशों को एक सामरिक साझेदारी विकसित करनी चाहिए।

मुखर्जी ने कहा कि भारत सीमा के मुद्दे पर चीन के साथ किसी विवाद की कल्पना नहीं करता। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने कहा, हमारे पास संस्थागत व्यवस्थाएं हैं। एक भारत-चीन संयुक्त आयोग है। वे नियमित तौर पर बैठक करते हैं। किसी भी विवाद को सुलझाया जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चीन के साथ मतभेद बातचीत से सुलझ सकते हैं: प्रणब