DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसी मंत्री को हटाने का सवाल ही नहीं: येदियुरप्पा

किसी मंत्री को हटाने का सवाल ही नहीं: येदियुरप्पा

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने सोमवार को अपने किसी भी मंत्री को हटाने के सवाल को सिरे से खारिज कर दिया, लेकिन उन्होंने अपने काम करने की शैली को बदलने का वायदा किया।

कर्नाटक भाजपा के असंतुष्टों ने येदियुरप्पा मंत्रिमंडल के कुछ मंत्रियों को हटाने की मांग की थी। नई दिल्ली से वापस लौटने के बाद अपने आवास पर येदियुरप्पा ने संवाददाताओं से कहा कि इस विषय पर कोई सवाल ही नहीं उठता है।

मुख्यमंत्री प्रदेश भाजपा में दो सप्ताह से जारी संकट का सर्वमान्य समाधान निकालने के बाद बेंगलुरु वापस आने पर अपनी सरकार से किसी मंत्री को हटाने के मुद्दे पर एक सवाल का उत्तर दे रहे थे।

मुख्यमंत्री खेमे और असंतुष्ट रेड्डी बंधुओं के बीच समझौते के तहत येदियुरप्पा के मुख्यमंत्री बने रहने और राज्य मामलों की देखरेख के लिए एक समन्वय समिति के गठन की बात कही गई है। ऐसे भी संकेत हैं कि एक महिला मंत्री को मंत्रिमंडल से हटाया जा सकता है और स्पीकर को कैबिनेट में शामिल किया जा सकता है।

राज्य भाजपा का संकट दूर होने पर राहत महसूस करते हुए कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने कहा कि कल से आप एक अलग येदियुरप्पा को देखेंगे। अब मैं पूरी तरह से प्रसन्न हूं।
समझौता फार्मूला का ब्यौरा जारी करने से इनकार करते हुए उन्होंने कहा कि यह कुछ दिनों के भीतर स्पष्ट हो जाएगा।

बेंगलुरु लौटने पर हवाई अड्डे पर समर्थकों के जबरदस्त स्वागत के बीच मुख्यमंत्री ने कहा कि वह विधानसभा के स्पीकर जगदीश शेट्टर से मिलेंगे। उल्लेखनीय है कि शेट्टर ने असंतुष्टों की येदियुरप्पा को हटाने की मांग को सामने रखा था। संकट पैदा होने पर शेट्टर ने मंत्रिपद की पेशकश को स्वीकार करने से इनकार कर दिया था।

जब उनसे पूछा गया कि क्या वह बेल्लारी से स्थानांतरित अधिकारियों को फिर से बहाल करेंगे तो उन्होंने कहा कि वह इस विषय पर मीडिया से चर्चा नहीं करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि रेड्डी बंधु और मैं इस विषय पर मिलकर समाधान निकालेंगे। येदियुरप्पा ने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व जल्द ही राज्य का दौरा करेगा और इन मुद्दों पर चर्चा करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:किसी मंत्री को हटाने का सवाल ही नहीं: येदियुरप्पा