DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चुनाव के कारण टल रहीं हैं शादियां

विवाह के मंडप में बैठने से ऐन पहले शादी के जोड़े में ही वोट देकर वाह-वाही बटोरने वाले दूल्हे-दुल्हनों के किस्से तो आजकल खूब सुनने को मिलते हैं, लेकिन चुनाव ही शादियों के लिए एक तरह से खलनायक बन जाए तो क्या कहा जाए।

दरअसल झारखंड में 25 नवंबर से पांच चरणों में घोषित विधानसभा चुनाव के साथ ही हिन्दू वैवाहिक लग्न की तिथियों के टकराने के कारण बडी संख्या में शादियां टल रही हैं, जिससे दूल्हा-दुल्हन बनने की हसरत रखने वाले कई जोड़ों को अगले वर्ष गर्मियों तक इंतजार करना पड़ सकता है। राज्य में विधानसभा चुनाव 25 नवंबर के अलावा 2 8 12 और 18 दिसंबर को होने हैं, जबकि वैवाहिक लग्न 17 नवंबर से 13 दिसंबर तक करीब 18 तिथियों पर ही हैं। इनमें से तीन तिथियों 2 8 और 12 दिसंबर को मतदान है। चुनाव के कारण वाहनों के जब्त होने तथा होटलों में भीड़-भाड़ के मद्देनजर विवाह के लिए गाड़ियों तथा ठहरने के स्थानों की बुकिंग में खासी मुश्किलें रही हैं, जिसके कारण बड़ी संख्या में शादियां टल रही हैं।

ज्योतिष के जानकार अनिल दुबे ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि उनके पास बड़ी संख्या में ऐसे लोग आ रहे हैं, जो शादी की तिथियां बदलना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि एक तो यह वैवाहिक लग्न अवधि काफी संक्षिप्त हैं, उस पर चुनाव के पांच चरणों में होने से वर-वधू पक्ष के लिए कई जरूरी इंतजाम कर पाना मुश्किल है। चुनाव के कारण अपने बेटे पवन की शादी टाल चुके विश्वंभर प्रसाद ने बताते हैं, चुनावी गहमागहमी में शादी को पूरे धूमधाम से कर पाना संभव नहीं। इससे बेहतर तो इंतजार करना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चुनाव के कारण टल रहीं हैं शादियां