DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएड बेरोजगारों ने फूंका प्रदेश सरकार का पुतला

प्रदेश सरकार को बेरोजगार विरोधी बता रहे बीएड बेरोजगारों ने विशिष्ट बीटीसी और एलटी पदों पर विज्ञप्ति जारी न होने पर राज्य सरकार का पुतला दहन कर विरोध जताया। बीएड प्रशिक्षितों ने विशिष्ट बीटीसी के जरिए आठ हजार और एलटी में पांच हजार पदों पर शीघ्र विज्ञप्ति जारी करने की मांग की है। विज्ञप्ति जारी न होने पर उन्होंने आंदोलन की चेतावनी दी है।

प्रशिक्षित बीएड बेरोजगारों ने राज्य निर्माण के नौ वर्ष बीतने के बाद भी स्पष्ट रोजगार नीति बनने पर आक्रोश जताया है। बीएड बेरोजगारों ने राज्य सरकार पर एनसीटीई  के मानकों का बहाना बनाकर बेरोजगारों के साथ छलावा करने का आरोप लगाया। कई पदों के रिक्त होने के बाद भी लंबे समय से विज्ञप्ति जारी करने की मांग कर रहे बीएड बेरोजगार रविवार सुबह झंडा चौक में एकत्रित हुए और राज्य सरकार के पुतले को आग के हवाले कर दिया। 

इससे पहले हिंदू पंचायती धर्मशाला में हुई बैठक में वक्ताओं ने कहा कि राज्य आंदोलन मे युवाओं की भी अहम भूमिका रही, लेकिन स्पष्ट रोजगार नीति न बनने से राज्य के युवा वर्ग को प्रदेश बनने का कोई फायदा नहीं हुआ। वक्ताओं ने कहा कि तीन वर्षो से लगातार धरना प्रदर्शन कर रहे बीएड बेरोजगारों की मांग को अनसुना किया जा रहा है।

उन्होंने सभी बीएड बेरोजगारों से एकजुट होकर आंदोलन को तेज करने की अपील की। पुतला दहन करने वालों में अनूप जदली, अनिल कोटनाला, राजेंद्र सिंह, ज्ञान सिंह, संदीप सिंह, विजय गौड़, महेंद्र सिंह, आशीष नयाल, कैलाश, संजय, प्रदीप, सतपाल आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बीएड बेरोजगारों ने फूंका प्रदेश सरकार का पुतला