DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में हथियारों की तस्करी में लगे हैं नौनिहाल

हथियारों के अवैध निर्माण और तस्करी के लिए कुख्यात बिहार के मुंगेर जिले में अब तस्कारों ने नन्हें नन्हें हाथों में हथियार थमाकर छोटे बच्चों को तस्करों के तौर पर इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। हाल के दिनों में हथियार तस्करी के इल्जाम में पकड़े गए बच्चों की बढ़ती संख्या से इसका अंदाजा लगाया जा सकता है।

मुंगेर के बाल न्यायालय के समक्ष पिछले पांच साल के दौरान बच्चों द्वारा शस्त्र कानून के उल्लंघन के 145 मामले आये जिनमें 55 मामले शस्त्र तस्करी से जुडे हैं।

मुंगेर बाल न्यायालय से प्राप्त आंकडों के मुताबिक वर्ष 2005 में बच्चों द्वारा शस्त्र कानून के उल्लंघन के 23 मामले न्यायालय के सामने आये जिनमें से 9 बच्चों द्वारा शस्त्र तस्करी के थे। इसी तरह मुंगेर बाल न्यायालय में वर्ष 2006 में दायर मुकदमों में शस्त्र कानून उल्लंघन के 25 मामलों में से शस्त्र तस्करी के 16 मामले शामिल थे।

वर्ष 2007 में शस्त्र कानून के उल्लंघन के आठ मामले मुंगेर के बाल न्यायालय के समक्ष आए जिनमें से दो मामले बच्चों द्वारा मिनीगन फैक्टरी के संचालन से जुडे और तीन मामले शस्त्र तस्करी के थे।

मुंगेर के बाल न्यायालय में वर्ष 2008 एवं 2009 में विचार हेतु सूचीबद्ध किये गये कुल 89 मामलों में से 28 बाल अपराधी शस्त्र तस्करी से जुडे हैं जबकि शस्त्र के दुएपयोग के 61 मामले शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार में हथियारों की तस्करी में लगे हैं नौनिहाल