DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कर्नाटक का कलेश बरकरार

कर्नाटक का कलेश बरकरार

कर्नाटक भाजपा में शनिवार को भी घमासान जारी रहा। पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व दिनभर जुटा रहा लेकिन कोई समाधान नहीं निकल सका। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के संकट सुलझा लेने के दावों के बावजूद राज्य में भाजपा सरकार में जारी राजनीतिक अनिश्चितता समाप्त होने का कोई संकेत दिखाई नहीं दे रहा है।

येदियुरप्पा ने कहा कि उनकी सरकार में आया संकट सुलझा लिया गया है और वह मुख्यमंत्री के पद पर अपना कार्यकाल पूरा करेंगे। जम्मू में वैष्णोदेवी मंदिर की यात्रा करने के बाद राजधानी दिल्ली लौटने पर येदियुरप्पा ने वरिष्ठ पार्टी नेताओं के साथ चर्चा की।

इस बीच, बेंगलूर में असंतुष्टों ने समझोता की बातचीत को खारिज करते हुए नेतृत्व परिवर्तन की मांग पर कायम रहने की बात कही है। बहरहाल, कर्नाटक संकट के समाधान की कड़ी में भाजपा के वरिष्ठ नेता एम वेंकैया नायडू के निवास पर शनिवार शाम एक और बैठक हुई। इसमें कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा भी शामिल हुए।

बैठक में भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज और अनंत कुमार के अलावा कर्नाटक के मंत्री वीएस आचार्य और सदानंद गौड़ा भी मौजूद थे। नायडू ने संवाददाताओं से कहा कि राज्य में नेतृत्व परिवर्तन नहीं होगा और संकट का सुखद अंत होगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रविवार को वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को बधाई देने के लिए राजधानी में एक दिन और रूक गए हैं। उन्होंने कहा कि दबाव में काम करने का कोई प्रश्न नहीं है लेकिन अगर सहयोगी कोई प्रश्न उठाते हैं तो उसे खारिज नहीं किया जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कर्नाटक का कलेश बरकरार