DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बलात्कारियों को मिली दस-दस साल की सजा

कबाड़ चुनने वाली एक नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने वाले दो युवकों को अदालत ने दस-दस साल कैद की सजा सुनाई है। तीस हजारी स्थित एडिशनल सेशन जज आर के जैन की अदालत ने बलात्कारी युवकों सचिन और कृष्ण कुमार को सजा सुनाते हुए कहा कि ‘एक 12 साल की लड़की जो पेट भरने के लिए सड़क पर भटकने को मजबूर है। उसकी मजबूरी को कमजोरी मान मुजरिमों ने जबरन उसके साथ बलात्कार किया। हालांकि यह सही है कि मुजरिमों का पहला यह अपराध है। परन्तु मुजरिमों ने गंभीर अपराध को अंजाम दिया है। लिहाजा मुजरिम कठोर सजा के ही हकदार है।’


अभियोजन पक्ष के अनुसार 12 साल की सायरा(बदला हुआ नाम) से दो लड़कों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। दरअसल पीड़िता कूड़ा बीनने का काम करती है। घटना वाले दिन 21 जुलाई 08 को वह जब काम के लिए निगमबोध घाट के पास घूम रही थी। तभी दो लड़के उसे बहला-फुसला कर पास ही एक झुग्गी में लेकर गए। तथा दोनों लड़कों ने लड़की से दुष्कर्म किया। मौके पर पीड़िता का भाई पहुंच गया। उसने एक आरोपी को धर दबोचा। जबकि दूसरा वहां से भाग खड़ा हुआ। पुलिस ने पीड़िता व अभियुक्त की चिकित्सीय जांच कराई। जांच में पीड़िता के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई। अदालत ने इस मामले में पीड़िता व मामले के चश्मदीद गवाह पीड़िता के भाई के बयानों को अहम माना। अदालत ने अभियोजन द्वारा पेश गवाहों व साक्ष्यों के आधार पर मुजरिम सचिन(22) व कृष्ण कुमार(20) को दोषी ठहराते हुए सजा सुनाई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बलात्कारियों को मिली दस-दस साल की सजा