DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वंदेमातरम् विरोधियों को देश में रहने का अधिकार नहीं : रामदेव

योगाचार्य रामदेव ने कहा कि हमारे सभी कार्यक्रमों की शुरुआत वंदे मातरम् से होती है। इसे देश के हर नागरिक को बोलना चाहिए। इसके विरोध करने वाले को देश में रहने का अधिकार नहीं है। जिस धरती मां ने हमें जन्म दिया और लालन पालन किया, उसे नमन करना ही चाहिए। वंदेमातरम का मतलब ही अपनी मातृ भूमि को नमन करना है।

शनिवार प्रात: राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित अंतर्राष्ट्रीय महासम्मेलन में पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात कही। योग की शिक्षा देने के लिए बीती रात वह यहॉं पहुंचे। उन्होंने कहा कि वंदे मातरम् के विरोध के फतवे की उन्हें देवबंद में जाने से पहले सूचना नहीं थी। वे सत्य से पीछे नहीं हटते। वहां पहुंच उन्होंने अपना फर्ज निभाया है। योग में किसी  भी तरह के विवाद को स्थान नहीं है।

उन्होंने कहा कि शब्दों के अर्थ को समझने में गलती नहीं होनी चाहिए। वह योग सिखाते हैं। योग मानवता की भावना पैदा करता है। हमें अध्यात्म से जोड़ता है और यही देश के लिए आवश्यक है। मथुरा योगेश्वर श्रीकृष्ण की नगरी है। महाराज विरजानंद एवं विद्वान दयानंद सरस्वती की मिलन स्थली है। श्री कृष्ण ने गीता में 18 योगों की जानकारी दी। वे संसार में सर्वाधिक लोकप्रिय हैं। मथुरा योग सिद्धपीठ है तीर्थ है। इसलिए वह इस धरा को नमन करते हैं।

ठाकरे एवं अन्य नेताओं द्वारा अपने प्रदेश में अन्य को रोजगार न दिए जाने के संबंध में उन्होंने कहा कि भारतीय नागरिक को कहीं भी रहने एवं कहीं भी रोजगार करने का अधिकार है। जो इसका विरोध करता है वह संविधान के खिलाफ है।  संविधान का अपमान है। संविधान किसी प्रांत और  संप्रदाय के लिए नहीं बना है। योग टैेक्स के संबंध में बाबा ने बताया कि उनके दो लाख देश में एवं विदेश में पांॅच हजार योग सिखाने वाले हैं। वह किसी से टैक्स नहीं लेते।

सम्मेलन में शामिल होने का कुछ लोगों द्वारा विरोध के संबंध में उन्होंने कहा कि यदि कोई अपनी मर्यादा छोड़ दे तो फिर इसमें उनका दोष नहीं है। स्वार्थवश की गई किसी की टिप्पणी  उनके ऊपर कोई फर्क नहीं पड़ता। राजनेताओं का बौद्धिक विकास के एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि यह क्रम भी धीरे - धीरे बदलेगा। देश में पनप रहे भ्रष्टाचार का अंत भी होगा। यही उनकी मुहिम है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वंदेमातरम् विरोधियों को देश में रहने का अधिकार नहीं : रामदेव