DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘तड़ीपार’ घूमते दिखे तो फंसेगी पुलिस

तड़ीपार होकर भी अपराधी जिले में घूम रहे हैं! ऐसी शिकायतें मिलने पर प्रशासन ने कड़ा रुख अपनाया है और पुलिस सख्त निर्देश जारी किए हैं। डीएम ने पुलिस को हिदायत दी है कि गुंडे-मवाली और फरार अपराधियों की तुरंत धरपकड़ शुरू की जाए। जिला बंदर चल रहे क्रिमिनल किसी सूरत में घूमते न दिखाई दिए, तो इलाका पुलिस को जिम्मेदार मानते हुए कार्रवाई की जाएगी।


अपराधी रिकार्ड वाले लोगों की कानूनी घेराबंदी के लिए पुलिस गुंडा एक्ट की कार्रवाई तो करती रहती है मगर फिर ऐसे दागियों की निगरानी नहीं करती। यही वजह है कि प्रशासन के स्तर से जिला बदर घोषित किए जाने के बाद भी ऐसे क्रिमिनल जिला नहीं छोड़ते। पुलिस की नजरों से बचते हुए यहीं जमे रहते हैं। जबकि नियमानुसार, छह माह तक वह जिले में झांक तक नहीं सकते।


इस सम्बंध में लगातार मिल रहीं शिकायतों कोडीएम आर रमेश कुमार ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने इसे लेकर पुलिस को कड़े निर्देश जारी किए हैं। पुलिस को हिदायत दी गई है कि गुंडा एक्ट लगाए जाने के बाद जिला बदर हुए अपराधियों पर लगातार नजर रखी जाए। यदि वे जिले की सीमा में घूमतें मिले तो तुरंत गिरफ्तार कर लिया जाए। हिस्ट्रीशीटरों की निगरानी भी लगातार की जाए और फरार चल रहे अपराधियों की गिरफ्तारी को लगातार अभियान चलाया जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:‘तड़ीपार’ घूमते दिखे तो फंसेगी पुलिस