DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फार्म भरने के नाम पर 45 हजार ले चंपत

 बैंक में रुपए जमा करने का फार्म भरवाना सीरियर सिटीजन को भरी पड़ गया। मदद करने के लिए हाथ बढ़ाने वाला युवक ही उनके रुपए लेकर वहां से चंपत हो गया। जब तक वह कुछ समझ पाते बैंक में जमा करने के लिए लाई गई पूंजी उनके हाथों से निकल चुकी थी। सीरियर सिटीजन की शिकायत पर कोतवाली-20 पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।


सेक्टर-11 निवासी राकेश दत्ता (करीब 80) शुक्रवार को सेक्टर-2 स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में 45 हजार रुपए जमा करने पहुंचे। सीरियर सिटीजन होने के चलते उन्हें फार्म भरने में कुछ कठिनाई महसूस हुई। जिसे उनके पास बैठा युवक भांप गया। उसने राकेश दत्ता से फार्म ले लिया और उन्हें मदद का झांसा देकर फार्म भरने लगा। फार्म भरने के दौरान उसने रुपयों से भरा बैग उनसे ले लिया। फार्म भरकर रुपए जमा करवाने को लेकर वह भी निश्चिंत होकर बैठ गए। फार्म भरते-भरते अचानक वह युवक वहां से गायब हो गया। जब तक राकेश दत्ता कुछ समझ पाते बैंक में जमा करने के लिए लाए गए रुपए लेकर वह चंपत हो चुका था। उन्होंने इस बात की जानकारी परिवार के दूसरे सदस्यों को दी। बहू ज्योति दत्ता ने इस बात की शिकायत कोतवाली-20 में की। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

ध्यान देने योग्य बातें :
-सीनियर सिटीजन को अकेले बैंक न जाने दें, उनके साथ किसी सहारे का होना बहुत जरूरी है
-जहां तक हो अपना फार्म स्वयं भरें
-फार्म भरने में परेशानी होने पर शाखा प्रबंधन से संपर्क करें
-किसी भी व्यक्ति को एकाउंट नंबर व पास में रखे रुपयों के बारे में न बताएं
-रुपयों का लेन देन करते समय उसे अच्छी तरह से गिन लें
-फार्म भरते समय जमा करने के लिए लाए गए रुपयों का ध्यान रखें
-जब तक फार्म जमा करने वाले काउंटर पर रुपए न जमा कर दें, तब तक अपने आस-पास खड़े लोगों पर नजर रखते रहें

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फार्म भरने के नाम पर 45 हजार ले चंपत