DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्यवसायी की हत्या के बाद सुलगा पटना सिटी

चप्पल व्यवसायी मो. शमशेर की शुक्रवार की रात हुई हत्या के खिलाफ शनिवार की सुबह पटना सिटी सुलग उठा। खाजेकलां के हजारी मुहल्ले में एक अन्य चप्पल-जूता व्यवसायी चंद्रिका प्रसाद के घर कुछ लोगों द्वारा हमला करने के बाद स्थिति बिगड़ गई। उत्पात मचाते हुए सौ से अधिक हमलावर चंद्रिका के विकलांग भतीजे राजीव दास उर्फ गोली को जबरन उठा कर ले जाने लगे। स्थानीय लोगों ने उपद्रवियों का विरोध करते हुए राजीव को छुड़ाया। देखते ही देखते नून का चौराहा पर दोनों गुट भिड़ गये।

एक तरफ से ईंट-पत्थरों की बरसात हुई तो दूसरी तरफ से 12-14 चक्र हवाई फायरिंग। रोड़बाजी में दो पुलिसकर्मियों समेत चार लोग घायल हो गये। इससे सड़क पर यातायात ठप हो गया और भगदड़ मच गई। इस दौरान असामाजिक तत्वों ने माहौल को बिगाड़ कर दूसरा रंग देने की भी कोशिश की लेकिन लोगों ने उनकी इस कोशिश को विफल कर दिया। इलाके में मौजूद मोबाइल दस्ते ने चार-पांच हवाई फायरिंग करने के साथ ही आंसू गैस के गोले दाग कर मोर्चा संभाले रखा। आधे घंटे बाद दर्जनभर थानों की पुलिस के साथ ही वज्र वाहन व आला पुलिस व प्रशासनिक अफसरों ने मौके पर पहुंच कर स्थिति संभाली।


सिटी डीएसपी सुनील कुमार ने पुलिस द्वारा फायरिंग किये जाने से इंकार करते हुए स्थिति को नियंत्रण में बताया है। चंद्रिका दास के परिजनों ने बताया कि उन्हें कुछ समझ में नहीं आ रहा है कि ऐसा क्यों हुआ। हमलावर घर में घुसे और पूछने लगे ‘अजय का भाई कहां है? उसके नहीं होने की बात सुनते ही हमलावरों ने पैर से लाचार राजीव को उठा लिया और घसीटते हुए वहां से ले जाने लगे। इलाके में व्याप्त तनाव को देखते हुए करीब एक किलोमीटर तक का एरिया पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:व्यवसायी की हत्या के बाद सुलगा पटना सिटी