DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वकील प्रशांत भूषण को अवमानना का नोटिस

वकील प्रशांत भूषण को अवमानना का नोटिस

एक समाचार पत्रिका में एक साक्षात्कार में भारत के पूर्व प्रधान न्यायाधीशों और शीर्ष अदालत के एक न्यायाधीश सहित कुछ न्यायाधीशों की कथित तौर पर निंदा करने के आरोप में उच्चतम न्यायालय ने जाने माने वकील प्रशांत भूषण के खिलाफ अवमानना नोटिस जारी किया है।

 भूषण ने तहलका पत्रिका में दिए साक्षात्कार में न्यायमूर्ति एस एच कपाड़िया के खिलाफ कुछ टिप्पणियां की थीं। न्यायमूर्ति कपाड़िया प्रधान न्यायाधीश पद के दावेदारों में शामिल हैं। भूषण ने साक्षात्कार में कहा था कि प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति क़े जी़ बालकष्णन के साथ वन्य पीठ के एक सदस्य न्यायमूर्ति कपाड़िया को वेदांता स्टरलाइट ग्रुप से जुड़े एक मामले की सुनवाई नहीं करनी चाहिए क्योंकि वह कंपनी के शेयर धारक हैं।

उच्चतम न्यायालय ने तहलका के प्रधान संपादक तरुण तेजपाल को भी नोटिस जारी किया और मामले की सुनवाई उस पीठ को सौंप दी जिसमें न्यायमूर्ति कपाड़िया सदस्य नहीं हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वकील प्रशांत भूषण को अवमानना का नोटिस