DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा का नया अध्यक्ष दिल्ली से बाहर का होगा : भागवत

भाजपा का नया अध्यक्ष अरूण जेटली, सुषमा स्वराज, अनंत कुमार या वेंकैया नायडु जैसे दूसरी पीढ़ी के नेताओं की चौकड़ी में से नहीं होगा। वह दिल्ली से बाहर का होगा और उसके चयन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने शुक्रवार को यह रहस्योद्घाटन किया।

पार्टी के वर्तमान अध्यक्ष राजनाथ सिंह का कार्यकाल इस वर्ष 31 दिसंबर को समाप्त हो रहा है और नए अध्यक्ष के रूप में कई नामों की चर्चा है। संघ प्रमुख ने इस बारे में स्पष्ट संकेत देते हुए कहा, "जी हां, नया नेतत्व इन चारों से अन्यथा होगा। मुझे ऐसा बताया गया है। इसी बारे में सहमति बनी है और मुझे विश्वास है कि प्रक्रिया शुरू हो गई है।"

भागवत ने हाल में तीन राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा के खराब प्रदर्शन के बाद पार्टी में नेतृत्व परिवर्तन के सवालों के जवाब में यह बताते हुए कहा, "लेकिन वह अपना समय लेगा। मैं केवल वही बता रहा हूं, जो मुझे (भाजपा द्वारा) बताया गया है, उनके दिमाग में एक योजना है और उस पर आगे बढ़ा जा रहा है।"

भाजपा नेतृत्व पर्वितन मामले में संघ के हस्तक्षेप करने और अपनी बात थोपने के बारे में सरसंघचालक ने दावा किया, संघ कभी हस्तक्षेप नहीं करता है। वह मांगे जाने पर केवल सुझाव देता है। भागवत ने भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी की इस बात से असहमति जताई कि बाबरी मस्जिद ढहाया जाना राष्ट्रीय शर्म का विषय है।

यह पूछने पर कि गुजरात दंगों के लिए क्या मोदी को माफी मांगनी चाहिए, भागवत ने कहा, "वह राज्य के मुखिया हैं। उन्हें पूरी जानकारी है कि क्या कुछ हुआ है और अपनी प्रतिक्रिया देने के लिए सक्षम हैं। यदि वह सोचते हैं कि ऐसा कुछ हुआ है कि माफी मांगी जाए तो वह माफी मांग लेंगे। मुझे यकीन है।"

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भाजपा का नया अध्यक्ष दिल्ली से बाहर का होगा : भागवत