DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विहिप का वंदेमातरम् पर फतवे के विरोध में प्रदर्शन

वंदेमातरम् पर जमीयत उलेमा-ए-हिंद द्वारा जारी किए गए फतवे को लेकर विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने शुक्रवार को जंतर-मंतर पर जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। वंदेमातरम् का विरोध करने वालों को राष्ट्रदोही कहते हुए प्रदर्शनकारियों ने केन्द्रीय गृहमंत्री पी. चिदंबरम का पुतला भी फूंका। विहिप की तरफ से राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन भी सौंपा गया, जिसमें वंदेमातरम् का विरोध करने वालों से सख्ती से निपटने की मांग की गई है। फतवा जारी करने वाले संगठन के कार्यक्रम में चिदंबरम उपस्थित थे, इस कारण विहिप ने यह भी मांग की है कि संवैधानिक पद की गरिमा बनाए रखते हुए चिदंबरम राष्ट्र से माफी मांगे।

दिन में बारह बजे के करीब आयोजित प्रदर्शन में विहिप के केन्द्रीय सलाहकार बी.एल. शर्मा ‘प्रेम’ ने कहा कि देशद्रोहियों के मंसूबों को किसी भी हाल में कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। शर्मा ने फतवा जारी करने वाले संगठन को राष्ट्रद्रोही घोषित करने की भी मांग की। विहिप के प्रांत मंत्री रामकृष्ण श्रीवास्तव ने कविता के माध्यम से कहा कि जिसे राष्ट्र से ज्यादा मजहब प्यारा हो, उसके लिए भारत में जगह नहीं है। प्रदर्शन में विहिप कार्यकर्ता अच्छी संख्या में शामिल हुए। भगवा झण्डे, बैनर और पट्टिकाएं लेकर प्रदर्शन किया गया। ‘भारत में यदि रहना है तो वंदेमातरम् कहना है’, ‘राष्ट्रगीत का यह अपमान नहीं सहेगा हिन्दुस्तान’ आदि नारे पट्टिकाओं पर लिखे गए थे। प्रदर्शन में विहिप के प्रांत सह संयोजक शैलेन्द्र जायसवाल, प्रांत महामंत्री सत्येन्द्र मोहन, प्रांत संगठन मंत्री करुणा प्रकाश, बजरंग दल प्रांत संयोजक अशोक कपूर, दुर्गावाहिनी संयोजिका अंजलि, मातृशक्ति संयोजिका संतोष गौड़, मनीष राय आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विहिप का वंदेमातरम् पर फतवे के विरोध में प्रदर्शन