DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रभाष के निधन से पत्रकारिता में गहरा शून्य: शीला

दिल्ली की मुख्यमंत्री और हिन्दी अकादमी दिल्ली की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने वरिष्ठ पत्रकार प्रभाष जोशी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

श्रीमती दीक्षित ने जोशी के निधन को गांधीवादी पत्रकारिता के शिखर पुरुष का अवदान बताया। उन्होंने कहा कि जोशी के निधन से गंभीर और जिम्मेदार पत्रकारिता में गहरा शून्य पैदा हुआ जिसकर जिसकी भरपाई संभव नहीं है।

दिल्ली की संस्कृति मंत्री किरण वालिया ने जोशी के निधन को पत्रकारिता की भारी क्षति बताते हुए गहरी संवेदना व्यक्त की है। अकादमी के उपाध्यक्ष अशोक चक्रधर ने भी जोशी के निधन को गहरी क्षति बताते हुए कहा कि वह परंपरा और आधुनिकता के मिश्रण के अद्भुत प्रतीक थे।

अकादमी के सचिव रवीन्द्रनाथ श्रीवास्तव ने मुख्यमंत्री की तरफ से गांधी शांति प्रतिष्ठान जाकर उन्हें पुष्पजांलि अर्पित की। श्रीवास्तव ने कहा कि जोशी की भाषा में पत्रकारिता और साहित्य संधि करते हैं। उन्होंने कहा कि जोशी आंदोलनों के प्राणप्रतीक भी थे और उनके सरोकार पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति से जुड़े थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रभाष के निधन से पत्रकारिता में गहरा शून्य: शीला