DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी कॉलेज में रैगिंग मामले में 28 छात्र निष्कासित

वाराणसी के उदय प्रताप कॉलेज में गत 16 सितम्बर को रैगिंग को लेकर हुई मारपीट के मामले में जांच कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर कॉलेज प्रशासन ने 28 छात्रों को कॉलेज से निष्कासित कर दिया है। इनमें से 13 छात्रों को दो साल के लिए और 13 छात्रों को एक सेमेस्टर के लिए निष्कासित किया गया है जबकि दो छात्रों को हमेशा के लिए कॉलेज से बाहर कर दिया गया है।

कॉलेज के प्रवक्ता डा गुलाब सिंह ने बताया कि कॉलेज में रैंगिग को लेकर हुई मारपीट के मामले में जांच कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद कॉलेज प्रशासन ने कल सख्त कदम उठाते हुए दोषी 28 छात्रों को कॉलेज से निष्कासित करने का फैसला किया। इनमें से दो छात्रों को हमेशा के लिए कॉलेज से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

जिन 13 छात्रों पर मारपीट के साथ कॉलेज की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का आरोप था उन्हें दो साल के लिए कॉलेज से निष्कासित किया गया है। हमेशा के लिए निष्कासित छात्रों में पीयूष सिंह और जंगबहादुर सिंह शामिल हैं जिन पर हिंसा को भड़काने और मामले में नेतागिरी करने का आरोप है।

दो सालों के लिए निष्कासित छात्रों में मनीष कुमार सिंह, विकास सिंह, रोहित कुमार सिंह, सव्रेश कुमार मिश्र, विनय कुमार सिंह, अमतेश कुमार सिंह, सुधाकर सिंह, दीपक कुमार सिंह, विनीत कुमार सिंह, सुनील कुमार पाठक, हेमंत सिंह, विकास सिंह और मनीष सिंह शामिल हैं। दोषी छात्रों में अधिकांश छात्र बीएससी कृषि विज्ञान में तृतीय वर्ष के छात्र हैं।

कॉलेज प्रशासन के इस फैसले से आज कॉलेज में भारी तनाव का माहौल है। जहां नए छात्र इस फैसले को अपनी जीत के तौर पर देख रहे हैं वहीं अनेक वरिष्ठ छात्र नाराज हैं और बदले की भावना से उद्वेलित हैं जिसे देखते हुए कॉलेज प्रशासन ने परिसर में सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी कॉलेज में रैगिंग मामले में 28 छात्र निष्कासित