DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हीरो की उम्र कोई मायने नहीं रखती: करीना

हीरो की उम्र कोई मायने नहीं रखती: करीना

आप नये हीरो के साथ कम ही नजर आ रही हैं?
आप इसे संयोग कह सकते हैं कि सीनियर हीरो का साथ मुझे ज्यादा मिला है। इस मामले में मेरी अपनी कोई पसंद नहीं रही है। इसकी वजह शायद यह हो कि इंडस्ट्री में मुझे कई साल हो चुके हैं, इसलिए मेरे डायरेक्टर जैसा चाहते थे, मैंने वैसा किया। वसे सुधीर मिÞश्रा की ‘ध्रुव’ में मैं नए हीरो फरहान के साथ नजर आऊंगी।

क्या लीड रोल होने पर ही आप नये हीरो के साथ काम करेंगी?
ऐसी कोई बात नहीं है, पर जब रोल कुछ खास होता है तो डायरेक्टर फिल्म के बैलेंस के लिए किसी नए हीरो को लेना पसंद करते हैं। फिर कोई बड़ा हीरो भी क्यों किसी हीरोइन बेस्ड फिल्म में काम करना चाहेगा।

शायद इसीलिए नये हीरो के साथ काम करने से आप बच रही हैं?
हां, क्यों नहीं, यह मेरे लिए कोई चैलेंज नहीं है। एक्टिंग के दौरान रिश्ते आदि की बातों का कोई मतलब नहीं होता। इस दौरान दो एक्टर सिर्फ अपने रोल को प्ले करते हैं। यदि किसी फिल्म में मुझे अपना रोल पसंद आता है तो हीरो रणबीर हो या कोई भी, मुझे कोई परेशानी नहीं है।

‘टशन’ के बाद से ही मीडिया के कुछ लोगों ने यह प्रचारित करना शुरू कर दिया था कि अक्षय के साथ मेरी जोड़ी नहीं जमती है। ‘कमबख्त इश्क’ के बाद तो उन्हें जैसे यह मौका और मिल गया है, जबकि यह बेसिर-पैर की सोच है। ‘कमबख्त इश्क’ ने कोई बुरा बिजनेस नहीं किया है। खैर, कोई कुछ भी कहे, मैं अक्की को बहुत पसंद करती हूं। जब भी अक्षय के साथ कोई अच्छी फिल्म का ऑफर मुझे मिलेगा, मेरे इनकार का सवाल ही नहीं उठता।

अक्षय को पसंद करने की कोई खास वजह?
अच्छा हुआ आपने वजह पूछ ली। आपकी जानकारी के लिए बता दूं, जब मैं स्कूल जाती थी, तब से अक्षय को जानती हूं। मुझे अच्छी तरह से याद है अक्षय की पहली फिल्म ‘दीदार’ थी, जिसकी हीरोइन मेरी बहन लोलो (करिश्मा कपूर) थीं। तब मेरी उम्र मात्र नौ साल थी। अक्की और लोलो ने लगभग एक साथ इंडस्ट्री में स्ट्रगल शुरू किया था। अक्षय को मैं स्ट्रगल के दिनों से अच्छी तरह से जानती हूं। आज वो सुपर स्टार हैं। वो मेरे लिए एक फैमिली मेंबर की तरह हैं, इसलिए हम दोनों के साथ काम करने का लेवल ही दूसरा हो जाता है।

आज चालीस के ऊपर के अक्षय आपके हीरो हैं, इसे आप कितना एंजॉय करती हैं?
आप उम्र को बीच में क्यों ला रहे हैं। मैं तो ज्यादातर फोर्टी प्लस हीरो के साथ काम कर रही हूं। हां, अक्षय के साथ काम करने के दौरान एंजॉय के साथ-साथ आश्चर्य भी लगता है कि किस तरह से उन्होंने इस उम्र में भी अपने आपको मेंटेन कर रखा है। मेरा ख्याल है, इस देश के असली एक्शन हीरो अक्षय ही हैं।

फिर सैफ के बारे में क्या कहना चाहेंगी?
(हंसते हुए) वह तो इस बीच सबसे टॉप पर पहुंच चुके हैं। उनकी तारीफ में तो मैं घंटों बात कर सकती हूं, मगर कोई पर्सनल सवाल नहीं।

दूसरी हीरोइन अपना लुक और हेयर स्टाइल बदलती रहती हैं, आप बार-बार अपना वजन घटा-बढ़ा लेती हैं?
मैं हमेशा फिल्म में अपने किरदार की डिमांड के मुताबिक अपनी फिगर, कास्ट्यूम फाइनल करती हूं। आप इस मामले में मुझे भी परफेक्शनिस्ट कह सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हीरो की उम्र कोई मायने नहीं रखती: करीना