DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कसौंदी की फली खाने से छह बच्चों की मौत

कसौंदी की फली खाने से शामली, गंगोह और बिजनौर में छह बच्चों की जान चली गई। सात बच्चों की हालत गंभीर है। दूसरी ओर सहारनपुर के रामपुर मनिहारान में जहरीली शराब पीने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। 
मंगलवार को गढ़ीपुख्ता के गांव कच्ची गढ़ी में कुछ बच्चों ने खेल-खेल में कुछ बच्चों ने कसौंदी की फलियां खा ली।

शाम को जिन्दा की छह वर्षीय बेटी हिना और तीन वर्षीय नगमा, तनवीर की पांच वर्षीय बेटी नर्गिस, सलीम की चार वर्षीय बेटी राबिया, इरफान का पांच वर्षीय बेटा सुहैल और तीन वर्षीय बेटी शीबा, तनवीर का चार वर्षीय पुत्र शुएब, तनवीर के छह वर्षीय बेटे सुहान को बुखार के साथ उल्टियां होने लगीं। बुधवार को बच्चों को सहारनपुर के जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां हिना, नर्गिस, राबिया और नगमा की मौत हो गई।

चार अन्य बच्चों की हालत गंभीर है। गुरुवार को इसी गांव की आरबा (ढाई साल) पुत्री इमरान, नुसरत (7) पुत्री नफीस और अफशा (5) पुत्री शौकत, आलम पुत्र सलीक की हालत बिगड़ने पर मुजफ्फरनगर जिला अस्पताल ले जाया गया।

गंगोह के ग्राम लखनौती में कसौंदी खाने से सईद के पांच वर्षीय बेटे शेख की मौत हो गई। मंगलवार को उसे रोहतक मेडिकल ले जाया गया था। बिजनौर चांदपुर के ग्राम धींवरपुरा निवासी शराफत हुसैन के तीन वर्षीय पुत्र परवेज ने एक सप्ताह पहले कसौंदी की फलियां खा लीं थीं। गुरुवार को उसे दिल्ली एम्स में उपचार के लिए ले जाया जा रहा था, रास्ते में उसकी मौत हो गई।

दूसरी ओर रामपुर मनिहारान के उमाही कलां में शराब पीने से बुधवार देर रात 50 वर्षीय चोहड़ सिंह की मौत हो गई। मृतक के पुत्र जोगिंदर सिंह का आरोप है कि गांव में शराब की बिक्री की जा रही है, उनके पिता ने वहीं से शराब ली थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कसौंदी की फली खाने से छह बच्चों की मौत