DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गांव वाले चलायेंगे अस्पताल

गांव वाले अब सरकारी अस्पताल चलवायेंगे। जरूरत पड़ने पर प्राइवेट डाक्टरों की भी सेवा लेंगे। सरकार ने स्वास्थ्य सुविधाओं के अंतिम आदमी तक विस्तार के लिए हर ग्राम पंचायत को प्रति वर्ष 30 से 40 हजार रुपए देन का निर्णय किया है। इस राशि के संचालन के लिए हर राजस्व ग्राम में ‘लोक स्वास्थ्य, परिवार कल्याण एवं ग्रामीण स्वच्छता समिति’ का गठन किया जा रहा है। ग्राम पंचायत के 5 सदस्य और नर्स (एएनएम) समिति के सदस्य बनाये जा रहे हैं। समिति आवश्यकता पड़ने पर जरुरतमंद निर्धन मरीज के इलाज का खर्च भी वहन करेगी। विपरित परिस्थिति में समिति अन्य स्नोत से अनुदान लेने को स्वतंत्र होगी। निर्धारित लक्ष्य के मुताबिक ढंग से कार्यान्वयन हुआ तो पहली जनवरी से यह समिति काम करने लगेगी। 


 राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के दिशा-निर्देशों के तहत हर राजस्व ग्राम में इस समिति का गठन अनिवार्य है। स्वास्थ्य विभाग ने इस ओर कार्रवाई तेज की है। विभाग ने इस समिति के माध्यम से ही स्वास्थ्य केन्द्रों का निर्माण और संचालन करने का भी निर्णय किया है। जिन जगहों पर स्वास्थ्य केन्द्रों के निर्माण के लिए जमीन उपलब्ध नहीं है वहां यह समिति जमीन का निर्धारण भी करेगी। विभाग ने जिला स्वास्थ्य समितियों को राशि उपलब्ध कराने की शुरुआत कर दी है।

जिला स्वास्थ्य समिति प्रति राजस्व ग्राम के हिसाब से10 हजार की राशि प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को देगी। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के ऊपर ‘लोक स्वास्थ्य, परिवार कल्याण एवं ग्रामीण स्वच्छता समिति’ के गठन की जिम्मेवारी होगी। वे यह सुनिश्चित भी करेंगे कि समिति के बैंक अकाउंट में राशि पहुंची या नहीं। राशि का सदुपयोग हो रहा है या नहीं इसके लिए ‘निगरानी समिति’ का भी गठन किया जा रहा है। निगरानी समिति में वार्ड कमिश्नर, आशा, आंगनबाड़ी सेविका और स्वयं सहायता समूह का नेता सदस्य होंगे। समिति के माध्यम से डाक्टर की उपलब्धता, जच्च-बच्चा का टीकाकरण, जन्म-मृत्यु का शत-प्रतिशत रजिस्ट्रेशन और ग्रामीण स्वास्थ्य योजना का निर्माण किया जाएगा।

गांव के एक-एक व्यक्ति तक डाक्टरी सुविधा के विस्तार के लिए ‘लोक स्वास्थ्य, परिवार कल्याण एवं ग्रामीण स्वच्छता समिति’ का गठन किया जा रहा है। कालाजार-मलेरिया आदि संक्रामक रोगों के रोकथाम एवं सार्वजनिक स्वास्थ्य गतिविधियों के संचालन में अब काफी सुविधा होगी।
             स्वास्थ्य मंत्री - नन्दकिशोर यादव

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गांव वाले चलायेंगे अस्पताल