DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंदिरा आवास घोटाले में दो बीडीओ और फंसे

गढ़ में तैनात रहे दो और बीडीओ संजय सिंह, श्रवण कुमार भी लाखों के घोटाले में फंस गए हैं। लाखों घपले के मामले में प्रशासन ने इन दोनों अफसरों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज करा दी है। इनमें श्रवण कुमार इस समय वाराणसी और संजय सिंह फिरोजाबाद जिले में तैनात बताए जाते हैं।

अर्थ एवं संख्या विभाग के सनसनीखेज खुलासे के बाद गाजियाबाद प्रशासन घोटाले के मामले में अब तक पांच बीडीओ समेत दस कर्मचारियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा चुका है। अफसरों के मुताबिक, पुलिस अब आरोपी अधिकारियों और कर्मचारियों की गिरफ्तारी की तैयारी में लगी है।

इधर प्रशासन ने गबन किए गए लाखों के सरकारी धन की रिकवरी की कार्रवाई भी शुरू कर दी है। जिला विकास अधिकारी वाईके उपाध्याय ने बताया कि पुलिस की तफ्तीश में यह सच्चाई भी सामने आ जाएगी कि अफसरों और कर्मचारियों ने मिलकर इंदिरा आवास योजना का कितना धन खुद डकार लिया। सही गोलमाल का पता होते ही दोषी अधिकारी और कर्मचारियों से सरकारी धन की वसूली कर दी जाएगी।
डीडीओ के मुताबिक, आरोपी ग्राम पंचायत अधिकारी जितेन्द्र वर्मा के बाद जितेन्द्र कुमार को भी सस्पेंड कर दिया है। बाकी अधिकारी और कर्मचारियों के निलंबन के लिए ग्राम्य विकास आयुक्त को रिपोर्ट भेज दी गई है।

डीआरडीए के पीडी एसके मिश्र ने बताया कि छानबीन में गढ़ ब्लाक में बतौर बीडीओ तैनात रहे संजय सिंह और श्रवण कुमार के भी गड़बड़ी में शामिल होने की बात सामने आई थी। अब दूसरे जिलों में तैनात इन दोनों अधिकारियों के खिलाफ गढ़ थाने में एफआईआर दर्ज करा दी है। इंदिरा आवास घोटाले में अब तक दस अधिकारी और कर्मचारी फंस चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंदिरा आवास घोटाले में दो बीडीओ और फंसे