DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरक्षण की मांग पर कैंपस में जड़े ताले

हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल केंद्रीय विवि में कैंपस आरक्षण की मांग को लेकर चल रहा छात्रों का आंदोलन उग्र होता जा रहा है। गुरुवार को गुस्साए छात्रों ने बिडला परिसर एवं चौरास परिसर सहित विवि के प्रशासनिक भवन को बंद कराने के बाद श्रीनगर, चौरास, श्रीकोट एवं कीर्तिनगर क्षेत्र के स्कूल कॉलेज पूरी तरह बंद करा दिए। छात्रों ने मांगें पूरी न होने तक आंदोलन जारी रखने की चेतावनी दी है।

आरक्षण की मांग कर रहे छात्र नेता बिडला व चौरास परिसर में तालाबंदी करने के बाद जुलूस की शक्ल में प्रशासनिक भवन पहुंचे और कामकाज ठप करा दिया। काफी देर तक विवि प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने के बाद छात्रों ने श्रीनगर बाजार में बाइक रैली निकाली और शहर के सभी छोटे-बड़े स्कूलों को बंद करवाया।
गुस्साए छात्रों ने श्रीनगर के साथ ही श्रीकोट, चौरास एवं कीर्तिनगर के स्कूल कॉलेज भी पूरी तरह बंद करा दिए।

छात्र नेताओं ने अपने संबोधन में कहा कि जब तक गढ़वाल विवि में कैंपस आरक्षण सहित एनएसएस एवं एनसीसी का लाभ छात्रों को नहीं दिया जाता तब तक छात्र प्रदर्शन जारी रखेंगे। पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष उत्तम भंडारी, महासचिव प्रताप गुसांई, परवेज अहमद, अंकित रौथाण, प्रदीप रौंथाण, मनिंदर लडोला सहित अनेक छात्र नेताओं ने चेतावनी दी कि यदि विवि प्रशासन ने छात्रों की मांगों के संदर्भ में ठोस कार्यवाही नहीं की तो छात्र उग्र प्रदर्शन करेंगे।

इधर कैपस आरक्षण सहित एनएसएस एवं एनसीसी का लाभ दिए जाने की मांग को लेकर चल रहा है। विवि प्रतिनिधि अंकित रौंथाण एवं कार्यकारणी सदस्य मनजीत रावत का अनशन गुरुवार को तीसरे दिन भी जारी रहा। अनशनकारी छात्र नेताओं का कहना है कि जब तक उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जाता तब तक उनका अनशन जारी रहेगा। गढ़वाल विवि शिक्षणेत्तर कर्मचारी संघ के अध्यक्ष विक्रम सिंह रावत ने कहा है कि शिक्षणेत्तर कर्मियों का पूरा समर्थन छात्रों के साथ है। उन्होंने कहा कि छात्रों की मांगें पूरी तरह जायज हैं और उन्हें पूरा समर्थन दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आरक्षण की मांग पर कैंपस में जड़े ताले