DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरोपितों पर रासुका के बारे में सरकार से जवाब-तलब

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने औरैया के चर्चित इंजीनियर मनोज कुमार गुप्त हत्याकाण्ड में तीन आरोपितों पर लगाई गई रासुका को चुनौती देने वाली याचिका पर केन्द्र सरकार व राज्य सरकार से चार सप्ताह में जवाब माँगा है। यह आदेश न्यायमूर्ति इम्तियाज मुर्तजा एवं न्यायमूर्ति एसएस तिवारी की खण्डपीठ ने विनय तिवारी, पूती ऊर्फ रामबाबू व मनोज अवस्थी की अलग-अलग याचिकाओं पर पारित किया है।

ज्ञातव्य है कि मनोज गुप्त हत्याकाण्ड में बसपा विधायक शेखर तिवारी भी आरोपित हैं। इस मामले में आरोपित विनय तिवारी, रामबाबू व मनोज अवस्थी पर जिलाधिकारी औरैया ने 30 दिसम्बर, 08 को रासुका लगाया था। इसे हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आरोपितों पर रासुका के बारे में सरकार से जवाब-तलब