DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत नेपाल करेंगे प्रत्यर्पण संधि पर हस्ताक्षर

भारत और नेपाल शुक्रवार से काठमांडो में शुरू हो रही गृह सचिव स्तर की वार्ता में प्रत्यर्पण संधि पर हस्ताक्षर करेंगे और सीमा सुरक्षा एवं सीमा प्रबंधन सहित विभिन्न मुद्दों पर विचार होने की संभावना है।

गृह मंत्रालय के सूत्रों ने नई दिल्ली में बताया कि दोनों पक्ष दो दिवसीय वार्ता में आपसी स्तर पर कानूनी सहायता देने की एक अन्य संधि को अंतिम रूप देंगे। बैठक में वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी माओवादियों के बारे में बेहद कम समय में सूचनाओं के आदान-प्रदान तथा नशीले पदार्थों और जाली मुद्रा को रोकने के लिए सीमावर्ती जिलों में तालमेल के बारे में विचार विमर्श करेंगे।

भारत यह भी मांग करेगा कि नेपाल अपनी भूमि पर भारत विरोधी गतिविधियां चलाने वाले तत्वों के खिलाफ कठोर कदम उठाए। गृह सचिव जी के पिल्लै गुरुवार शाम यहां पहुंच गए। वह द्विपक्षीय सुरक्षा बैठक के तहत नेपाली गृह सचिव गोविंद कुसुम से बातचीत करेंगे।

भारत नेपाल के प्रधानमंत्री माधव कुमार नेपाल की अगस्त में नई दिल्ली यात्रा के दौरान उनके समक्ष पड़ोसी देश की सीमा के जरिए जाली मुद्रा के नोटों के प्रचलन की बढ़ती समस्या पर चिंता जता चुका है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत नेपाल करेंगे प्रत्यर्पण संधि पर हस्ताक्षर