DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस माह पूर्वाचल में रंगारंग आयोजनों की धूम

इस माह जहां सोनभद्र के रॉबर्ट्सगंज में ‘सोन महोत्सव’ की धूम मचेगी, वहीं बलिया के ददरी मेले में कव्वाली का मुकाबला होगा। वाराणसी में विश्व धरोहर सप्ताह संग रानी लक्ष्मीबाई जयंती से जुड़े कार्यक्रम होंगे। साथ ही लोक कलाओं के संरक्षण व संवर्धन के लिए चल रही योजना के तहत वरुणा तट स्थित शास्त्री घाट पर कई जिलों के प्रतिभागी हिस्सेदारी करेंगे।

संस्कृति विभाग उत्तर प्रदेश की ओर से 15 व 16 नवंबर को प्रस्तावित सोन महोत्सव के मुख्य आकर्षण होंगे जोधपुर (राजस्थान) के विख्यात लोक कलाकार कोहीनूर लंगा ग्रुप। साथ ही लोक गायकों में रामकैलाश यादव (इलाहाबाद), वंदना सिंह (मथुरा), आलोक पांडेय (मुंबई) समेत विशाल कृष्ण (कथक, वाराणसी), लाफ्टर शो के प्रताप फौजदार (मुंबई) व कवि सम्मेलन आदि आयोजित किये जाएंगे।

क्षेत्रीय सांस्कृतिक केंद्र व पुरातत्व प्रमुख एवं अभिलेखागार अधिकारी डॉ. लवकुश द्विवेदी ने बताया कि इस महोत्सव के अलावा ददरी मेले में 11 व 12 तारीख को मुनव्वर ताज (कोलकाता) एवं चंचल भारती (नई दिल्ली) के बीच जवाबी कव्वाली और टीवी रियलिटी शो ‘सुर संग्राम’ के प्रतिभागी मोहन राठौड़ का लोकगायन होगा।

इधर, वाराणसी में 9 नवंबर को विश्व धरोहर सप्ताह व रानी लक्ष्मीबाई जयंती पर शुभारंभ दुर्गाकुंड रोड स्थित गुरुधाम मंदिर में गोष्ठी, चित्रकला प्रतियोगिता एवं रंगारंग कार्यक्रम होंगे। 23-24 तारीख को वरुणा पुल स्थित शास्त्री घाट पर क्षेत्रीय लोक कलाकारों की प्रतियोगिता में वाराणसी, चंदौली, गाजीपुर, जौनपुर, मऊ व भदोही के कलाकार शामिल होंगे। इसमें चयनित प्रतिभागी प्रदेश स्तरीय प्रतियोगिता में हिस्सेदारी करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इस माह पूर्वाचल में रंगारंग आयोजनों की धूम