DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बड़े दलों में लगेंगे स्टार प्रचारकों के मेले

उम्मीदवारों की घोषणा और नामांकन का सिलसिला शुरू होते प्रचार भी जोर पकड़ने लगा है। पहले चरण में तीस सीटों के लिए 25 नवंबर तथा दूसरे चरण में 15 सीटों के लिए दो दिसंबर को वोट डाले जाने हैं। वक्त कम है और पहुंचना दूर तक है। चुनावी रणनीतिकार कार्यक्रम बनाने में जुटे हैं। इस बार प्रचार युद्ध जोरदार होगा। लोकसभा चुनाव की तरह ही इस बार फिल्मी सितारों तथा मॉडलों को भी जमकर प्रचार में उतारने की तैयारी है। उड़नखटोले के लिए ऐवियेशन कंपनियों से संपर्क साधा जा रहा है। बड़े दलों में स्टार प्रचारकों के मेले लगेंगे। अकेले कांग्रेस ने 300 सभा की तैयारी कर रखी है। सोनिया गांधी, डॉ मनमोहन सिंह, राहुल गांधी समेत कई केंद्रीय नेता आएंगे। मुकुल वासनिक और केशव राव तो झारखंड में ही कैंप करेंगे।
 
भाजपा भी इस बार कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। लालकृष्ण आडवाणी, राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज, नरेंद्र मोदी, सैयद शाहनवाज हुसैन, सुशील कुमार मोदी सरीखे नेता स्टार प्रचारक होंगे। फिल्म स्टार सह सांसद शत्रुध्न सिन्हा, हेमामालिनी भी भाजपा की प्राथमिकता में हैं। जदयू की कमान नीतीश कुमार संभालेंगे।  शरद यादव, शिवानंद तिवारी, ललन सिंह और वृषिण पटेल भी प्रचार करने आएंगे। राजद के स्टार प्रचारक अकेले लालू प्रसाद होंगे। पलामू, चतरा, कोडरमा, गिरिडीह में लालू के दौरे को लेकर उम्मीदवार अभी से समय मांग रहे हैं।


इधर क्षेत्रीय दलों के खेवनहार अकेले ही चुनावी कमान संभाले हैं। झामुमो में शिबू सोरेन अकेले स्टार प्रचारक होंगे। लोकसभा चुनाव में उनके बीमार रहने से कार्यकर्ता निराश- हताश थे। लेकिन इस बार नजारा बदला है। गुरुजी महीने भर से दौरे पर हैं। आजसू के भी अकेले खेवनहार सुदेश महतो हैं। सुदेश युवा कार्यकर्ताओं की लामबंदी में जुटे हैं। झाविमो में भी बाबूलाल मरांडी अकेले खेवनहार हैं। लेकिन इस बार कांग्रेस के साथ गठबंधन को लेकर उनके मंच पर कांग्रेसी नेता भी दिखेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बड़े दलों में लगेंगे स्टार प्रचारकों के मेले