अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बच्चों की फीस देगी टीस

राजधानी के निजी स्कूलों में अपने बच्चों को पढ़ानेवाले अभिभावकों पर बोझ अब और बढ़ने जा रहा है। अधिकतर निजी स्कूलों ने 30 से 40 प्रतिशत तक फीस बढ़ाने का प्रस्ताव तैयार किया है। स्कूल प्रबंधन छठे वेतन आयोग की सिफारिशों को फीस बढ़ाने का आधार बना रहे हैं। हालांकि कुछ स्कूलों के प्रबंधन ने अभिभावकों के साथ बैठक के बाद फीस बढ़ोत्तरी की दर पर अंतिम निर्णय लेने की बात कही है।ड्ढr दिल्ली पब्लिक स्कूल में 30 से 40 प्रतिशत, जेवीएम श्यामली में 30 से 40 प्रतिशत, डीएवी ग्रुप के स्कूलों में 30 से 35 प्रतिशत, कैंब्रियन स्कूल में 10 से 20 प्रतिशत, ऑक्सफोर्ड पब्लिक स्कूल में 35 से 40 प्रतिशत तक फीस बढ़ोत्तरी के प्रस्ताव की खबर है।ड्ढr कुछ स्कूलों के प्रबंधन ने अभिभावकों को नोटिस भेजकर इसकी जानकारी भी दे दी है।ड्ढr स्कूल प्रबंधन और प्राचार्यो का कहना है कि छठे वेतन आयोग की सिफारिशें लागू होने के बाद से शिक्षकों और शिक्षकेतर कर्मचारियों के वेतन में काफी बढ़ोत्तरी करनी पड़ रही है। इससे स्कूलों परड्ढr अचानक वित्तीय बोझ बढ़ गया है। इसके चलते फीस बढ़ानी पड़ रही है। इधर कई अभिभावकों ने फीस वृद्धि के मामले में पुनर्विचार करने का आग्रह किया है। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बच्चों की फीस देगी टीस