DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मास्टर का 17 हजारवां ब्लास्ट

मास्टर का 17 हजारवां ब्लास्ट

पिछले चार मैच में चूकने के बाद सचिन तेंदुलकर ने गुरुवार को राजीव गांधी स्टेडियम में 17 हजर रन का वह जादुई आंकड़ा छू लिया जिसका न सिर्फ उनके प्रशंसकों बल्कि पूरे क्रिकेट जगत को बेसब्री से इंतजार था।

तेंदुलकर ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ पांचवें वनडे मैच में सात रन पूरे करते ही यह मुकाम हासिल किया। उन्होंने बेन हिल्फेनहास की गेंद पर स्क्वायर लेग क्षेत्र में तीन रन लेकर सत्रह हजारी बनने का गौरव हासिल किया। उन्होंने इसके तुरंत बाद बल्ला बदल दिया।

तेंदुलकर पहले चार मैच में अपेक्षानुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए थे। मोहाली में चौथे वनडे में भी जब वह 40 रन पर थे तब अंपायर ने उन्हें गलत पगबाधा आउट दे दिया जिससे उन्हें 17000 रन पूरे करने के लिए आज तक इंतजर करना पड़ा।

मास्टर ब्लास्टर का यह 435वां मैच है और उन्होंने अब तक अपने कैरियर में 44 शतक और 91 अर्धशतक जमाए हैं। उन्होंने इसके अलावा 159 टेस्ट मैच में 54.58 की औसत से 12773 रन तथा एक टवंटी 20 अंतरराष्ट्रीय मैच में दस रन बनाए हैं।

तेंदुलकर ने अपने वनडे कैरियर में सर्वाधिक 2827 रन आस्ट्रेलिया के खिलाफ ही बनाए हैं। इसके अलावा उन्होंने श्रीलंका (2749), पाकिस्तान (2389), न्यूजीलैंड (1750), दक्षिण अफ्रीका (1655), वेस्टइंडीज (1571), जिम्बाब्वे (1377) और इंग्लैंड (1335) के खिलाफ भी 1000 से अधिक रन बनाए हैं।

तेंदुलकर के लिए नवाबों का शहर हैदराबाद हमेशा भाग्यशाली रहा है। उन्होंने इसी शहर के लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम में आठ नवंबर, 1999 को न्यूजीलैंड के खिलाफ नाबाद 186 रन बनाए थे जो उनका वनडे मैचों में सर्वाधिक स्कोर भी है।

इस स्टार बल्लेबाज ने रिकार्ड बनने तक भारतीय सरजमीं पर 5926 रन बनाए थे। इसके अलावा उन्होंने विदेशी धरती पर 4873 और तटस्थ स्थान पर 6203 रन बनाए हैं।

तेंदुलकर के बाद वनडे अंतररराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक रन सनथ जयसूर्या के नाम पर दर्ज हैं जिन्होंने 441 मैच में 13377 रन बनाए हैं। उनके बाद रिकी पोंटिंग (12286 रन), इंजमाम उल हक (11739 रन), सौरव गांगुली (11363 रन), राहुल द्रविड़ (10765), ब्रायन लारा (10405 रन) और जैक्स कालिस (10328 रन) दर्ज हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मास्टर का 17 हजारवां ब्लास्ट