DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जद (यू) ने पहले जारी सूची वापस ली

झारखंड में अलग-अलग चुनाव लड़ने की घोषणा के 24 घंटों के भीतर ही भारतीय जनता पार्टी और जनता दल (यू) ने फिर साथ मिल कर चुनाव करने की घोषणा कर दी। यहां तक कि जद (यू) ने बुधवार को जारी प्रत्याशियों की सूची वापस ले ली और 14 सीटों के लिए नई सूची जारी कर दी। यहां भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह और जद(यू) नेता शरद यादव ने संयुक्त रूप से संवाददाताओं को बताया कि झारखंड विधान सभा चुनावों में भाजपा 67 और जद (यू) 14 सीटों पर लड़ेंगी। चुनाव प्रचार में भी दोनों दलों के नेता एक दूसरे का साथ देंगे।


उल्लेखनीय है कि सीटों के बंटवारे पर दोनों दलों की बातचीत सिरे न चढ़ने के कारण पहले दिन भाजपा और दूसरे दिन जद (यू) ने अपने प्रत्याशियों की स्वतंत्र सूचियां जारी कर दीं। लेकिन मतदाताओं के बीच गलत संदेश जाने की आशंका को देखते हुए दोनों पक्षों के नेताओं ने शुक्रवार को बैठक की और मतभेद दूर कर लिए।
राजनाथ सिंह ने बताया कि जद (यू) के साथ भाजपा का पुराना गठबंधन है। झारंखंड की जनता ने पिछली कांग्रेस समर्थित सरकार का हाल देख लिया। उसने इससे पहले भाजपा-जद (यू) गठबंधन सरकार का शासन भी देखा था। राज्य की जनता चाहती है कि इस गठबंधन की सरकार गठित हो। हमें पूरी उम्मीद है कि झारखंड में अगली सरकार हमारी होगी। शरद यादव ने कहा कि चुनावों में भ्रष्टाचार मुख्य मुद्दा होगा। इसके अलावा महंगाई और जनता के सामने उपस्थित तमाम मुद्दों का उठाया जाएगा। हम जल, जंगल और जमीन के मुद्दे को जोर-शोर से उठाएंगे।
क्या दोनों पार्टियों का साझा घोषणा पत्र जारी किया जाएगा, इस पर कोई साफ जवाब नहीं दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जद (यू) ने पहले जारी सूची वापस ली