DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिख दंगे: मानवाधिकार आयोग पहुंची शिअद

शिरोमणि अकाली दल ने केन्द्र पर 1984 के सिख दंगों के दोषियों को संरक्षण देने का आरोप लगाकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की है। शिअद अध्यक्ष व पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने इस सिलसिले में आयोग को एक ज्ञापन पत्र सौंपकर कहा है यह पूरी सिख कौम से जुड़ा मसला है और इसकी निष्पक्ष जांच कराई जानी चाहिए। 

आयोग को ज्ञापन सौंपने के बाद सुखबीर बादल ने पत्रकारों से कहा कि केवल दिल्ली में ही सरकारी सूचना के अनुसार 2733 सिखों की हत्या हुई है, लेकिन आज तक दोषियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। पुलिस दोषियों को बचाने इन मामलों को दबाने का प्रयास कर रही है। बादल ने कहा कि नानावटी कमीशन की सिफारिश पर 2005 में जगदीश टाइटलर के खिलाफ जो केस दर्ज हुआ था, उसमें गलत ढंग से जांच करके सीबीआई ने केस बंद करने की   लगा दी, जबकि एक केस अभी भी अदालत में लंबित है।

उन्होंने आयोग से संबंधित मामलों में न्याय दिलाने के लिए अपने वकील नियुक्त करने के लिए हाईकोर्ट में रोजाना स्तर पर सुनवाई कराने का मांग उठाई। इस दौरान पार्टी के अन्य सदस्यों समेत एसजीपीसी के प्रमुख जत्थेदार अवतार सिंह मक्कड़ भी मौजूद थे। सुखबीर बादल ने विश्वभर के सिखों से अपील की है कि 84 के दंगों से पीड़ित परिवारों को इंसाफ दिलाने के लिए वे 9 नवंबर को धार्मिक स्थानों सामूहिक अरदास करे। अकाली दल इस मसले को संसद के शीतकालीन सत्र में भी उठाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सिख दंगे: मानवाधिकार आयोग पहुंची शिअद