DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विवि के तीन विभागों को सेंटर फॉर एक्सीलेंस

विवि के तीन विभागों को प्रदेश सरकार ने सेंटर फॉर एक्सीलेंस की मंजूरी देते हुए विशेष प्रोजेक्ट का रास्ता साफ कर दिया है। एडवांस रिसर्च के लिए तीनों विभागों को करीब चार करोड़ रुपये मिलेंगे। विवि में सेंटर फॉर एक्सीलेंस पाने वाले ये विभाग पहले होंगे।

बुधवार को लखनऊ में हुई बैठक में सीसीएसयू के केमेस्ट्री, बॉटनी और जूलॉजी विभाग सेंटर फॉर एक्सीलेंस पाने में सफल हो गए हैं। वित्त सचिव, सेकेट्ररी एजुकेशन कामरान रिजवी, उच्च शिक्षा सचिव विशेष अनिता मिश्र के समक्ष विवि से केमेस्ट्री के एचओडी डॉ. एनके सोनी, बॉटनी से प्रो. वाई विमला, जूलॉजी से प्रो. एचएस सिंह और डिप्टी रजिस्ट्रार प्रभात रंजन पहुंचे।

तीनों विभागों ने शोध प्रोजेक्ट को लेकर फाइनल प्रोजेक्ट पेश किया। सूत्रों के अनुसार विभागों ने वेस्ट यूपी को केंद्रित करते हुए विशेष शोध प्रोजेक्ट के प्रस्ताव रखे हैं। इसमें एमफिल के 20-20 छात्रों को प्रवेश का मौका मिलेगा। दो वर्ष के इस प्रोजेक्ट में छात्रों को शोध के लिए ट्रेंड किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विवि के तीन विभागों को सेंटर फॉर एक्सीलेंस