DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोर्ट हाजत पर बम से हमला, दो कैदी फरार

कोर्ट परिसर में स्थित हाजत के पास अपराधियों ने बम से हमलाकर दो जवानों को जख्मी कर दिया और नरसंहार मामले के आरोपित भगवानपुर के दवनपुर निवासी ज्ञानी पासवान एवं उत्तर प्रदेश के जमानियां थाना क्षेत्र के बथासी निवासी अरविंद राम को अपने साथ लेकर भाग निकले।

ज्ञानी पर नरसंहार, हत्या, लूट, अपहरण इत्यादि एवं अरविंद पर भी आर्म्स एक्ट समेत कई मुकदमे विभिन्न थानों में दर्ज हैं। बम की आवाज सुनते ही पैरवी करने आए लोगों और वकीलों के बीच भगदड़ मच गई। बम फोड़कर भाग रहे कैदी अरविंद को नागरिकों की मदद से पुलिस ने एक जीवित बम के साथ गिरफ्तार कर लिया। भागने के क्रम में घायल अरविंद को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां डॉक्टरों की अनुमति के बाद पुलिस उससे पूछताछ करेगी। दोनों घायल जवानों रामतवज्ञा शर्मा व संतोष पासवान का इलाज भी सदर अस्पताल में चल रहा है। डॉक्टरों ने बताया कि घायल जवान खतरे से बाहर हैं।

हाजत प्रभारी विद्यानंद सिंह ने बताया कि अपराधी झोले में बम लेकर आए थे। सिपाही हाजत का ताला खोलकर ज्ञानी को अंदर कर ही रहे थे कि अपराधियों ने बम से हमला कर दिया। जवानों को जख्मी कर अपराधी ज्ञानी व अरविंद को लेकर भाग गए।

एसपी ने बताया कि शहर की सभी सीमाओं को सीलकर अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी गयी है। जानकारों ने बताया कि कोर्ट में बम फोड़ने के बाद भागने के क्रम में अरविंद ने नगर पालिका मिडिल स्कूल एवं पुलिस लाइन के पास भी बम फोड़ा। इससे  सड़क व गलियों में भी भगदड़ मच गई, लेकिन दारोगा शमसुद्दीन अंसारी द्वारा की गई फायरिंग के बाद वह आगे नहीं भाग सका और अरविंद पुलिस की गिरफ्त में आ गया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि ज्ञानी को उसके साले ने बम दिया था। वह दस वर्ष पहले भी जेल से भाग गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोर्ट हाजत पर बम से हमला, दो कैदी फरार