DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूली बच्चे को स्वाइन फ्लू ने बनाया शिकार

स्वाइन फ्लू ने फिर एक बच्चे को शिकार बनाया है। बच्चे की उम्र आठ साल है और निजी लैब द्वारा बच्चे में स्वाइन फ्लू की पुष्टि की गई है। दो दिनों में लगातार बच्चों में स्वाइन फ्लू का यह चौथा मामला है। पिछले दो माह में भी स्वाइन फ्लू पॉजिटिव मरीजों में बच्चों की संख्या सबसे ज्यादा है।

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) डॉ.राजरानी कंसल ने बताया कि आठ साल के एक बच्चे को लेकर उसके परिजन बुधवार को जिला अस्पताल पहुंचे। बच्चा नोएडा का ही रहने वाला है और बच्चे के संपर्क में आए परिजनों को कांटेक्ट के आधार पर इमरजेंसी में टैमी फ्लू की दवा दे दी गई है। सीएमएस ने बताया कि बच्चे में दिल्ली के राष्ट्रीय संचारी रोग संस्थान (एनआईसीडी) के जरिए नहीं, बल्कि निजी लैब ने स्वाइन फ्लू की पुष्टि की है।

डॉ.कंसल ने बताया कि बुधवार को स्वाइन फ्लू संदिग्ध दो मरीजों के सैंपल लिए गए हैं। सैम्पल जांच के लिए एनआईसीडी भेज दिए गए हैं। पिछले दो माह में एनआईसीडी और निजी लैब द्वारा जिले में 50 से अधिक मरीजों में स्वाइन फ्लू की पुष्टि की जा चुकी है। इनमें 70 फीसदी संख्या बच्चों की है। मंगलवार को तीन बच्चों में भी स्वाइन फ्लू का मामला प्रकाश में आया था।

स्कूली बच्चों में स्वाइन फ्लू के अब तक मामले:
एमिटी यूनिवर्सिटी-04
डीपीएस-03
एमिटी इंटरनेशनल स्कूल-02
लोटसवैली स्कूल-02
कोठारी इंटरनेशनल स्कूल-01
एपीजे स्कूल-02
विश्व भारती स्कूल-02
मयूर स्कूल-01

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्कूली बच्चे को स्वाइन फ्लू ने बनाया शिकार