DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टॉप आर्डर को अच्छा प्रदर्शन करना होगा: धोनी

टॉप आर्डर को अच्छा प्रदर्शन करना होगा: धोनी

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बुधवार को कहा कि भारत को यदि आस्ट्रेलिया के खिलाफ पांचवां अहम एक दिवसीय मुकाबला जीतना है तो शीर्षक्रम को निचले क्रम पर निर्भर रहने की बजाय एक साथ अच्छा प्रदर्शन करना होगा।

भारतीय कप्तान ने कहा कि शीर्षक्रम को अच्छी बल्लेबाजी करनी होगी और निचले क्रम पर निर्भरता से बचना होगा। यदि आप सात बल्लेबाजों के साथ खेल रहे हैं तो उनमें से छह से बड़े स्कोर की अपेक्षा रहती है। लक्ष्य का पीछा करते समय सातवें बल्लेबाज पर छोड़ना ठीक नहीं है जो बैकअप बल्लेबाज होता है। उन्होंने मैच से पहले प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि यदि शीर्षक्रम का एक बल्लेबाज बड़ा स्कोर बनाता है तो हमारे लिए आसान हो जाएगा। यदि हमें अच्छी शुरुआत मिलती है तो बड़ा स्कोर जरूर बनेगा जिससे हम दबाव बना सकेंगे।

धोनी ने मोहाली वनडे में 250 रन का कमोबेश आसान लक्ष्य हासिल नहीं कर पाने के लिए अपने बल्लेबाजों को आड़े हाथों लिया। आस्ट्रेलिया ने यह मैच जीतकर सीरीज में 2-2 से बराबरी कर ली। उन्होंने कहा कि रविंदर जडेजा गेंदबाजी हरफनमौला के रूप में टीम में है। वह अच्छी गेंदबाजी कर रहा है और उसकी बल्लेबाजी भी महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि सातवें नंबर पर बल्लेबाजी के मायने अर्धशतक या बड़े स्कोर बनाना नहीं है बल्कि तेजी से रन बनाना है। यदि हम लक्ष्य का पीछा कर रहे हैं और विकेट गंवा देते हैं तो हर बल्लेबाज को अतिरिक्त प्रयास करने होंगे।

सचिन तेंदुलकर अभी तक सीरीज में बड़ा स्कोर बनाने में नाकाम रहे हैं लेकिन धोनी ने कहा कि 17 हजार वनडे रन से केवल सात रन दूर इस स्टार बल्लेबाज को दबाव में नहीं लाना चाहिए। उन्होंने कहा कि जब भी सचिन मैदान पर उतरते हैं तो उनसे काफी अपेक्षाएं की जाती हैं और उन पर बहुत जिम्मेदारी होती है। वह पिछले 20 साल से ऐसा कर रहे हैं। जब भी वह क्रीज पर उतरते हैं हम उनसे बड़े स्कोर की आशा करते हैं लेकिन इसके साथ ही हम नहीं चाहते कि वह दबाव में बल्लेबाजी करें।

सीरीज 2-2 से बराबरी पर होने के कारण धोनी ने कहा कि यह मैच सीरीज के परिणाम के लिहाज से महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि जब यह 1-1 से बराबर थी तो मैंने कहा था कि यह पांच मैचों की सीरीज के जैसे है। अब हम इसे तीन मैचों की सीरीज की तरह देख सकते हैं। अब प्रत्येक मैच महत्वपूर्ण है। अब अहम यह है कि कोई दिन खराब न रहे। अब जबकि मैचों की संख्या कम रह गई है तो वापसी के लिए भी समय नहीं है। अब दोनों टीमों के लिए प्रत्येक मैच और प्रत्येक घंटा महत्वपूर्ण है।

बल्लेबाज गौतम गंभीर के पूरी तरह फिट हो जाने से भारतीय टीम को राहत मिली है लेकिन तेज गेंदबाज आशीष नेहरा को खांसी है हालांकि धोनी ने इसे गंभीर नहीं बताया। धोनी ने कहा कि भले ही आस्ट्रेलियाई कोच टिम नीलसन ने व्यस्त कार्यक्रम की शिकायत की हो, खिलाड़ियों के पास विश्रम के लिए पर्याप्त समय है। उन्होंने कहा कि यदि दिल्ली और मोहाली के मैचों के बीच का समय छोड़ दिया जाए तो प्रत्येक मैच के बीच दो दिन का अंतर है। यह थकान से उबरने के लिए पर्याप्त है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टॉप आर्डर को अच्छा प्रदर्शन करना होगा: धोनी