DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुद्धी में मलेरिया से एक ही दिन तीन मरे

दुद्धी ब्लाक के बउरीहवा हाथीनाला गांव के लोग इस समय मलेरिया के प्रकोप से जूझ रहे हैं। केवल बुधवार को ही तीन लोगों की मौत से ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है। मलेरिया फैलने के साथ ही निकटवर्ती स्वास्थ्य केन्द्र में सूचना दिये जाने के बावजूद चिकित्साकर्मियों की कोई गांव में झांकने नहीं आयी और न गांव में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव ही किया गया।

बउरीहवा हाथीनाला गांव के निवासी शुकन के एक साल के बेटे प्रभु की मौत बुधवार को हो गयी। उसे दो दिन पहले से बुखार आ रहा था और उसका इलाज गांव के एक झाेलाछाप डाक्टर के यहां कराया जा रहा था। हालत गंभीर होने पर बुधवार को दोपहर बाद उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया जहां डाक्टरों ने उसे मलेरिया पीड़ित बताया। इलाज शुरू होने के आधे घंटे बाद ही उसने दम तोड़ दिया।

आज ही इससे पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती दो और मलेरिया पीड़ित मरीजों की मौत हो गयी। मृतकों में म्योरपुर निवासी राजकुमार का दो दिन का बेटा तथा रन्नू निवासी रामज्ञान (40) शामिल थे। एक के बाद एक लगातार तीन मौतों से क्षेत्र के लोगों में दहशत व्याप्त है।

सरकारी डाक्टरों का कहना है कि स्वास्थ्य केन्द्रों में मलेरिया की पर्याप्त दवा है, लेकिन ग्रामीण शुरुआती दौर में झाड़-फूंक और झोलाछाप डाक्टरों के चक्कर में पड़ जाते हैं। हालत गंभीर होने पर अस्पताल लाये जाने वाले मरीजों को बचाना मुश्किल होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दुद्धी में मलेरिया से एक ही दिन तीन मरे