DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विपक्ष की महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की मांग

महाराष्ट्र में भाजपा और शविसेना गठजोड़ ने राज्यपाल एससी जमीर से बुधवार मुलाकात की और कहा कि यदि अगले 24 घंटे में राज्य सरकार शपथ नहीं लेती है तो राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू कर देना चाहिए।

शविसेना के विधानसभा में नेता सुभाष देसाई ने राजभवन में संवाददाताओं से कहा कि हमने राज्यपाल से कहा कि विधानसभा नतीजे आने के 13 दिन बाद भी सरकार के शपथ लेने के कोई आसार नहीं हैं। सत्तारूढ़ भागीदारों में मलाईदार विभागों को लेकर खींचतान हो रही है लिहाजा सरकार के गठन में विलंब हो रहा है। देसाई ने कहा कि हमने राज्यपाल से कहा कि यदि अगले 24 घंटे में किसी मंत्रिमंडल को शपथ नहीं दिलाई गई तो उन्हें राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू करने की केन्द्र को सिफारिश भेज देनी चाहिए।

विधानसभा में भाजपा के नेता एकनाथ खाडसे ने कहा कि 11वीं विधानसभा का कार्यकाल मंगलवार को समाप्त हो गया तथा कांग्रेस एवं राकांपा में विभागों को लेकर खींचतान चल रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस राकांपा नेता नई सरकार के गठन में विलंब कर रहे हैं जबकि 22 अक्टूबर के नतीजों में उन्हें शासन करने का जनादेश मिला है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विपक्ष की महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की मांग