DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शतक से चूके द्रविड़, पांडे दोहरे शतक की ओर

शतक से चूके द्रविड़, पांडे दोहरे शतक की ओर

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ शतक से तीन रन से चूक गए लेकिन उनके और मनीष पांडे (नाबाद 194) के बीच चौथे विकेट के लिए 273 रन की साझेदारी की बदौलत कर्नाटक ने रणजी ट्राफी ग्रुप बी के सुपर लीग मैच के पहले दिन उत्तर प्रदेश के खिलाफ पांच विकेट पर 372 रन बना लिए।

उत्तर प्रदेश ने टॉस जीतकर क्षेत्ररक्षण का फैसला किया और तीसरे ही ओवर में उपकप्तान रोबिन उथप्पा का विकेट गिरने से यह सही साबित होता भी नजर आने लगा। उथप्पा को आरपी सिंह ने पगबाधा आउट किया जिस समय स्कोर बोर्ड पर सिर्फ एक रन टंगा था।

कर्नाटक को दूसरा झटका 27 रन के स्कोर पर भुवनेश्वर कुमार ने दिया। अमित वर्मा (5) उनकी गेंद पर पगबाधा आउट हुए। इसी स्कोर पर सलामी बल्लेबाज केबी पवन (15) को शलभ श्रीवास्तव ने पवेलियन भेजकर मेजबान का शिकंजा कस दिया। इसके बाद हालांकि द्रविड़ ने संकटमोचक की भूमिका एक बार फिर निभाते हुए पांडे के साथ कर्नाटक की पारी को संभाला। द्रविड़ ने 185 गेंदों का सामना करके 97 रन बनाए जिसमें 15 चौके शामिल हैं। वह तेजी से रन चुराने के प्रयास में रन आउट हो गए।

पांडे अलबत्ता 238 गेंद पर 194 रन बनाकर डटे हुए हैं। अपनी मैराथन पारी में वह 27 चौके और एक छक्का लगा चुके हैं। उनके साथ बी अखिल 17 रन बनाकर खेल रहे हैं।

अभिनव कुमार ने हैदराबाद को संभाला

हैदराबाद, एजेंसी

विकेटकीपर बल्लेबाज अभिनव कुमार ने शीर्ष क्रम लड़खड़ाने के बाद नाबाद 70 रन की जुझारू पारी खेलकर हैदराबाद को हिमाचल प्रदेश के खिलाफ रणजी ट्राफी सुपर लीग ग्रुप ए मैच के पहले दिन मंगलवार को छह विकेट पर 237 रन तक पहुंचाया।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिए उतरे हैदराबाद ने सलामी बल्लेबाज डी बी रवि तेजा (0) और उनका स्थान लेने के लिए उतरे अंबाती रायुडु (1)  का विकेट तब गंवा दिए जब स्कोर केवल 12 रन था। अनूप पाई (15) भी अधिक देर तक नहीं टिक पाए।

इसके बाद सलामी बल्लेबाज टी सुमन (45) और कप्तान अर्जुन यादव (19) के आउट होने के बाद स्कोर पांच विकेट पर 121 रन हो गया। अभिनव से यहीं से सैयद कादरी (47) के साथ 77 रन की साझेदारी की। इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने अभी तक चार घंटे से अधिक समय क्रीज पर बिताकर 187 गेंद खेली हैं तथा सात चौके लगाए। उनके साथ दूसरे छोर पर एम पी अर्जुन 15 रन बनाकर खेल रहे हैं। हिमाचल की तरफ से वी एस मलिक ने दो जबकि अशोक ठाकुर, मोहिंदर राज शर्मा और अभिनव बाली ने एक एक विकेट लिया।

बोस ने महाराष्ट्र को 179 रन पर समेटा

पुणे, एजेंसी

रानादेब बोस की कहर बरपाती गेंदबाजी की बदौलत बंगाल ने रणजी ट्राफी मैच के पहले दिन महाराष्ट्र को 179 रन पर समेट दिया। बोस ने 19.2 ओवर में 67 रन देकर पांच विकेट लिए जबकि अशोक डिंडा को तीन विकेट मिले। जवाब में बंगाल ने दो विकेट खोकर 52 रन बना लिए थे। वृद्धिमान साहा 10 और मनोज तिवारी तीन रन बनाकर खेल रहे थे। सलामी बल्लेबाज दीप दासगुप्ता (1) और अरिंदम दास (38) पवेलियन लौट चुके हैं।

इससे पहले महाराष्ट्र की पारी बोस और डिंडा के दिए झटकों से उबर ही नहीं सकी। आठवें नंबर के बल्लेबाज अजहर अंसारी (52) और संग्राम अतीतकर (44) को छोड़कर कोई बल्लेबाज नहीं टिक सका। महाराष्ट्र के छह बल्लेबाज तो दोहरे अंक तक भी नहीं पहुंच पाए।

बोस ने तीसरे ही ओवर में हर्शल खादीवाले (8) और रोहन भोंसले (5)  को पवेलियन भेजकर मेजबान टीम को दोहरे झटके दिए जिससे टीम अंत तक नहीं उबर सकी।


मुंबई के तेज आक्रमण के सामने पंजाब की पारी ढही

मुंबई, एजेंसी

फिट होकर भारतीय टीम में वापसी की कवायद में जुटे जहीर खान, अजित अगरकर और धवल कुलकर्णी के त्रिकोणीय तेज आक्रमण के सामने पंजाब ने मुंबई के खिलाफ रणजी ट्राफी सुपर लीग मैच के पहले दिन नौ विकेट 242 रन पर गंवा दिए जबकि रवि इंदर सिंह (104) को छोड़कर कोई बल्लेबाज कमाल नहीं दिखा सका।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने वाले पंजाब के लिए सिर्फ सलामी बल्लेबाज रवि ही बड़ी पारी खेल पाए जिन्होंने 251 गेंदों का सामना करके 104 रन जोड़े। इसमें 17 चौके और एक छक्का शामिल है। इससे पहले अगरकर ने पांचवें ही ओवर में सनी सोहल को आउट करके पंजाब को पहला झटका दिया। उदय कौल ने रवि के साथ 68 रन जोड़े लेकिन अगरकर ने कौल को बोल्ड करके इस साझेदारी को तोड़ा।

तरूवर कोहली को जहीर ने खानविलकर के हाथों लपकवाया। पंजाब के तीन विकेट 111 के स्कोर पर उखड़ गए थे। पंकज धरमाणी (9) जहीर का दूसरा शिकार बने जबकि अंकुर कक्कड़ (2) को अगरकर ने पवेलियन भेजा। रवि की पारी का अंत भी अगरकर ने ही किया जो अभिषेक नायर को कैच देकर पवेलियन लौटे। पहले दिन का खेल समाप्त होने पर मनप्रीत गोनी 30 रन बनाकर और एल अभिलाष खाता खोले बिना खेल रहे थे। 39 बार के चैंपियन मुंबई के लिए अगरकर ने चार विकेट लिए जबकि जहीर और कुलकर्णी को दो-दो विकेट मिले।


धवन के शतक से दिल्ली मजबूत

वड़ोदरा, एजेंसी

सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के नाबाद 122 रन से पिछले चैंपियन दिल्ली ने रणजी ट्राफी में अपने अभियान की अच्छी शुरुआत करते हुए सुपर लीग ग्रुप बी मैच के पहले दिन बड़ौदा के खिलाफ दो विकेट पर 300 रन बनाकर विशाल स्कोर की तरफ कदम बढ़ाए।

धवन ने मोतीबाग स्टेडियम की पिच पर शुरू से किसी तरह जोखिम नहीं लेने की रणनीति अपनाई। कप्तान आकाश चोपड़ा (21) के जल्दी आउट हो जाने के बाद धवन ने गौरव छाबड़ा (65) के साथ दूसरे विकेट के लिए 134 की साझेदारी करके टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिए उतरी अपनी टीम को दबाव में नहीं आने दिया।

बाएं हाथ के इस 23 वर्षीय बल्लेबाज को इसके बाद रजत भाटिया के रूप में अच्छा जोड़ीदार मिला जिन्होंने टवंटी 20 टूर्नामेंट से ही अपनी फार्म दिखा दी थी। भाटिया अभी 70 रन बनाकर खेल रहे हैं और धवन के साथ तीसरे विकेट के लिये 136 रन की साझेदारी कर चुके हैं।


पार्थिव पटेल का अर्धशतक

अहमदाबाद, एजेंसी
भारतीय टीम में वापसी की कवायद में लगे कप्तान पार्थिव पटेल की 83 रन की अर्धशतकीय पारी से गुजरात ने रणजी ट्राफी सुपर लीग ग्रुप ए मैच के पहले दिन उड़ीसा के खिलाफ अपनी पहली पारी में सात विकेट पर 237 रन बनाए।

टॉस जीतने के बाद बल्लेबाजी के लिए उतरे गुजरात की शुरुआत अच्छी नहीं रही और एक समय उसका स्कोर चार विकेट पर 89 रन था। पार्थिव ने यहीं से रूजुल भटट (46) के साथ 89 रन की साझेदारी की। विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव ने अपनी पारी में 128 गेंद खेली तथा दस चौके लगाए।

स्टंप उखड़ने के समय तिमिल पटेल 11 और अशरफ मकडा 31 रन पर खेल रहे थे। उड़ीसा की तरफ से धीरज सिंह सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 88 रन देकर चार विकेट लिए हैं जबकि देवाशीष मोहंती ने 17 ओवर में 26 रन देकर दो विकेट हासिल किए।


बांगड़ के शतक से रेलवे की अच्छी शुरुआत

नई दिल्ली, एजेंसी
संजय बांगड़ के नाबाद 111 रन की मदद से रेलवे ने तमिलनाडु के खिलाफ रणजी ट्राफी सुपर लीग ग्रुप ए मैच के पहले दिन चार विकेट पर 242 रन बनाकर शानदार शुरुआत की।

करनैल सिंह स्टेडियम में खेले जा रहे मैच में बांगड़ ने तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरकर अपने कप्तान मुरली कार्तिक का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के फैसले को सही साबित किया। उन्होंने सलामी बल्लेबाज फैज फजल के साथ 80 और येरे गौड़ के साथ 76 रन की दो महत्वपूर्ण साझेदारियां भी की। बांगड़ ने अब तक अपनी पारी में 217 गेंद का सामना करके 14 चौके और दो छक्के लगाए हैं। उनके बाद फजल ने 70 रन का उपयोगी योगदान दिया जिसके लिए उन्होंने 164 गेंद खेली तथा 11 चौके लगाए। स्टंप उखड़ने के समय बांगड़ के साथ संजीब सान्याल छह रन बनाकर खेल रहे थे।

तमिलनाडु ने सात गेंदबाजों का उपयोग किया लेकिन उसे इसका फायदा नहीं मिला। उसकी तरफ से आर अश्विन ने 33 ओवर में दो विकेट लिए। अभिनव मुकुंद और सुरेश कुमार को एक-एक विकेट मिला जबकि लक्ष्मीपति बालाजी को अभी पहले विकेट का इंतजार है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शतक से चूके द्रविड़, पांडे दोहरे शतक की ओर