DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पंजाब बंद का असर सहारनपुर में दिखा, थम गई रफ्तार

अंबाला रेलखंड पर एक बार फिर ट्रेनों की रफ्तार पर ब्रेक लग गई। इस बार ब्रेक लगने का कारण कोई हाद्सा नहीं बल्कि सिक्ख संगठनों के पंजाब बंद का आह्वान था। सहारनपुर रेलवे स्टेशन के हरियाणा सीमा से सटा होने के कारण यहां घंटों ट्रेनों का संचालन बधित रहा।

अंबाला की ओर से घंटों तक एक भी ट्रेन स्थानीय स्टेशन नहीं पहुंची। जबकि अंबाला की ओर जाने वाली ट्रेनों की भी सहारनपुर में ही रोकना पड़ा। बंद के कारण जनशताब्दी एवं गंगानगर एक्सप्रेस रद्द रही जबकि 5209 सहरसा-अमृतसर स्थानीय स्टेशन पर घंटो थमी रही। इनके अलावा अका तख्त एवं अमृतसर सहरसा भी अपने समय से घंटो की देरी से सहारनपुर स्टेशन पहुंची।

पंजाब बंद असर मंगलवार को सहारनपुर में भी साफ देखा गया। सवेरे दस बजे से दोपहर चार बजे तक का समय तो ऐसे बीता मानों पंजाब के साथ सहारनपुर का यातायात भी बंद कर दिया गया हो। रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का संचालन बधित होने के से वहां हजारों की संख्या में यात्राी इकठ्ठा हो गए। दोपहर बाद तक आलम यह हो गया कि यात्रियों को परिसर में बैठने तक की जगह मयस्सर नहीं हो सकी।

जब प्लेटफार्म पर भी जगह नहीं बची तो परेशान यात्रियों ने परिसर से मुख्य द्वार और ऑवर ब्रिज जैसे स्थानों को अपना ठिकाना बनाया। सहरसा से अमृतसर की ओर जाने वाली एक्सप्रेस ट्रेन को सहारनपुर में ही रोक दिया गया। यह ट्रेन करीब डेढ़ घंटे तक प्लेटफार्म छह पर खड़ी रही। उधर जनशताब्दी एवं गंगानगर एक्स्प्रेस के रद्द हो जाने के कारण हरिद्वार की ओर जाने वाले यात्रियों को भारी परेशानी का उठानी पड़ी।

इनके अलावा अंबाला की ओर से आने वाली अकाल तख्त अपने निर्धारित समय सवेरे साढ़े ग्यारह से करीब छह घंटे की देरी से और अमृतसर सहरसा अपने समय एक बजे से साढ़े पांच घंटे की देरी से सहारनपुर स्टेशन पहुंची। देर शाम स्टेशन पर भीड़ कम हो सकी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पंजाब बंद का असर सहारनपुर में दिखा