DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंगा में नाव पलटी, सभी सुरक्षित

बिदुपुर थाना क्षेत्र के आमेर घाट से चालीस शिक्षकों को लेकर राघोपुर के लिए चली एक नाव मंगलवार को बीच नदी में पलट गई। यह तो सभी शिक्षकों की किस्मत अच्छी रही कि सब के सब नाविकों की बहादुरी और फुर्त्तीलेपन के कारण बचा लिए गए, वरना खगड़िया में पिछले महीने घटी नाव दुर्घटना की पुनरावृत्ति लगभग हो ही चुकी थी। घटना सुबह साढ़े आठ बजे की है। नाव में दो महिला शिक्षक भी सवार थीं।

हुआ यह कि राघोपुर प्रखंड की जहांगीर पंचायत तथा जफराबाद पंचायत के भिन्न-भिन्न स्कूलों में पदस्थापित 40 शिक्षकों का समूह स्थानीय अमेर घाट से एक नाव पर सवार हुआ। नाव ज्योंही गंगा नदी के बीच में पहुंची कि नाविक को नाव डूबने का आभास होने लगा। नाव पर सवार शिक्षकों को उसने यह बात बताई। यह सुनकर सभी शिक्षक जोर-जोर से चिल्लाने लगे। कुछ शिक्षक जिन्हें तैरना आता था, नदी में कूद गए। इसी बीच अन्य नाविक भी अपनी-अपनी नाव लेकर पहुंच गए। इसी समय नाव ने पलटी मार दी।

सभी शिक्षकों को नाविकों की तत्परता से बचा लिया गया। बीच नदी में बहुत देर तक अफरातफरी मची रही। नाव पर सवार एक पंचायत शिक्षक कमलकांत भारती ने बाद में बताया कि शिक्षकों को गंगा मईया ने ही बचाया। नाव पर शिक्षक उपेन्द्र कुमार सिंह, हरेन्द्र राय, ओम प्रकाश, विजय कुमार सिंह, राम शंकर पंडित, ठाकुर अमरेन्द्र प्रसाद सिंह, देवेन्द्र राय तथा दो महिला शिक्षक रेखा सिंह और रेखा कुमारी के अलावा 40 शिक्षक सवार थे। इन शिक्षकों ने बताया कि प्रत्येक दिन वे लोग इसी तरह किस्मत के भरोसे नदी पार कर स्कूल जाते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गंगा में नाव पलटी, सभी सुरक्षित