DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मदरसा बोर्ड-आरक्षण पर शुभ संकेत

मदरसा बोर्ड, आरक्षण समेत तमाम 25 प्रस्ताव पर गृहमंत्री पी. चिदंबरम जरूर खामोश रहे, लेकिन राज्यसभा के डिप्टी स्पीकर के. रहमान ने जरूर शुभ संकेत दिए। उन्होंने कहा कि, मुसलमानों की सहमति के बिना मदरसा बोर्ड का गठन नहीं किया जाएगा। जब उलेमा चाहेंगे तभी इस दिशा में कदम उठाया जाएगा। साथ ही मुस्लिम आरक्षण को लेकर रंगनाथ मिश्र आयोग तथा सच्चर कमेटी की सिफारिशों को लेकर सरकार खासी गंभीर है। इसमें जल्द से जल्द कार्रवाई की उम्मीद है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मदरसा बोर्ड-आरक्षण पर शुभ संकेत