DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हेडली से पूछताछ के लिए भारतीय दल पहुंचा अमेरिका

हेडली से पूछताछ के लिए भारतीय दल पहुंचा अमेरिका

आतंकवाद के संदेह में गिरफ्तार पाकिस्तान में जन्मे अमेरिकी नागरिक डेविड कोलमैन हेडली से पूछताछ के लिए इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) और रॉ के अधिकारियों का एक दल यहां पहुंचा है। एफबीआई ने लश्कर-ए-तैयबा के लिए भारत पर एक बडे़ हमले की साजिश रचने के सिलसिले में हेडली को गिरफ्तार किया है।

बहरहाल, भारतीय और अमेरिकी अधिकारियों दोनों ने भारतीय खुफिया दल की अमेरिका यात्रा को ज्यादा अहम नहीं बताने की कोशिश की। वे भारतीय दल के कार्यक्रम के बारे में चुप्पी साधे हैं।

उनका कहना है कि वे इसकी ना तो पुष्टि कर सकते हैं और ना ही खंडन कर सकते हैं  कि आईबी और रॉ के अधिकारियों ने हेडली से पूछताछ की है। हेडली अभी शिकागो में एफबीआई की हिरासत में है।

अमेरिकी एजेंसी ने पिछले माह दो प्रमुख आतंकवादी हमले, लश्कर के साथ साठगांठ कर एक भारत पर और दूसरा डेनमार्क पर हमले की साजिश रचने के आरोपों पर 49 वर्षीय हेडली को गिरफ्तार किया।

हेडली की गिरफ्तारी की अमेरिका की घोषणा के बाद गहमंत्री पी चिदंबरम ने नई दिल्ली में कहा था कि एफबीआई से मामले की ज्यादा जानकारी हासिल करने आईबी और रॉ के अधिकारियों का एक दल अमेरिका जाएगा और हेडली से भी पूछताछ करेगा।

बहरहाल, अधिकारियों ने आईबी और रॉ के अधिकारियों के दल की यात्रा के मुद्दे पर कुछ भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। पीटीआई ने जब इस बारे में जानना चाहा तो एफबीआई और अमेरिकी न्याय मंत्रालय का जवाब था, हम इसकी ना तो पुष्टि कर सकते हैं और ना ही खंडन कर सकते हैं।

इस मुददे पर एफबीआई और विदेश मंत्रालय के साथ समन्वय कर रहे भारतीय दूतावास से जब आईबी और रॉ के अधिकारियों की शिकागो यात्रा के बारे में पूछा गया तो उनका कोई जवाब नहीं आया। एफबीआई ने उन्हीं आरोपों के आधार पर हेडली के स्कूल के समय के मित्र एवं कनाडाई नागरिक तहव्वुर हुसैन राना को गिरफ्तार किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हेडली से पूछताछ के लिए भारतीय दल पहुंचा अमेरिका