DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ट्रेन की पटरी पर दौड़ी मौत

ट्रेन की पटरी पर दौड़ी मौत

बारह जिंदगियों पर मंगल भारी पड़ गया। पहली घटना गुड़गांव के पटौदी रोड स्टेशन की है, यहां जल्दबाजी के फेर में छह लोग दिल्ली-अजमेर शताब्दी की चपेट में आ गए। दूसरी घटना फरीदाबाद के असवाटी रेलवे स्टेशन के पास घटी। वहां, काम करके अपने घरों को लौट रहे छह गैंगमैनों की जिंदगियों पर कहर बनकर टूटी ईएमयू एनपी-6।

मंगलवार सुबह 7.20 मिनट का वक्त। पटौदी रोड स्टेशन पर यात्री दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेन में सवार होने के लिए पटरी से प्लेटफार्म की तरफ जा रहे थे। पहले ट्रैक पर गुड्स ट्रेन थी। तभी दूसरे ट्रैक पर तेज रफ्तार शताब्दी ने छह लोगों को अपनी चपेट में ले लिया। मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने स्टेशन पर तोड़फोड़ की।

ट्रेन की तीन बोगियों पर पथराव किया गया। हादसे से दिल्ली-जयपुर रेलमार्ग पर ट्रेन सेवा छह घंटे से भी अधिक प्रभावित रहीं। मृतकों के शरीर करीब 250 मीटर के दायरे में कई टुकड़े में बंटकर, बिखर गए थे। मृतकों में चार पटौदी के मेहचाना गांव के जबकि एक दंपति गाजियाबाद के गांव खंगोड़ा निवासी थे। जानकारी मिलते जीआरपी, आरपीएफ, रेलवे, पुलिस और प्रशासन के अधिकारी पहुंच गए। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक रेलवे लाइन के इर्द गिर्द चलने की जगह नहीं होने से हादसा हुआ। 

वहीं, फरीदाबाद-पलवल सेक्शन के ग्रुप-6 के सात गैंगमैन असावटी रेलवे स्टेशन के पास पटरियों की मरम्मत कर रहे थे। शाम 6.10 बजे काम करने के बाद सभी गैंगमैन थर्ड लाइन के किनारे-किनारे स्टेशन की तरफ जा रहे थे। इसी बीच पीछे से नई दिल्ली से पलवल की ओर जा रही ईएमयू एनपी-6 तेज गति में आ गई।

ट्रेन के ड्राइवर ने हॉर्न दिया। लेकिन दूसरे ट्रैकों पर भी ट्रेन आ रही थी। उनके हॉर्न के बीच गैंगमैनों को ईएमयू के हॉर्न की आवाज सुनाई नहीं पड़ी और सभी चपेट में आ गए।  मौके पर छह गैंगमैनों के चीथड़े उड़ गए जबकि एक बुरी तरह घायल हो गया।  हादसे के दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर काफी देर तक गाड़ियों का परिचालन बाधित रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ट्रेन की पटरी पर दौड़ी मौत