DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा में वापसी पर जसवंत का साफ इंकार

भाजपा से निष्कासित जसवंत सिंह ने एक बार फिर से भाजपा में अपनी वापसी से इंकार करते हुए उक्त पार्टी के विचार संकीर्ण हो जाने की बात कही है।  सिंह के अनुसार जिस पार्टी ने उन्हें अपने यहां से निकाल दिया है, उसमें उनकी वापसी का कोई इरादा नहीं है। अगर भाजपा को आगे बढ़ना है, और एक बड़ी पार्टी के रूप में अपने को खड़ा करना है, तो उसे अपने विचारों में परिवर्तन लाना होगा। भाजपा के नेताओं द्वारा पार्टी में वापसी के लिए संपर्क साधे जाने के बारे में सिंह ने कहा कि वह इस बात को महत्व नहीं देते कि कौन इसको लेकर उनसे संपर्क कर रहा हैं और कौन लोग उन्हें निकालने में शामिल रहे बल्कि वह देश की बेहतरी के लिए अपने मिशन में लगे रहेंगे।

अपनी किताब के उर्दू संस्करण 'जिन्ना: हिंद-पाक बंटवारे के आईने में' के विमोचन के लिए पटना आए श्री सिंह ने कहा कि वह न तो किसी अन्य दल में शामिल होने जा रहे हैं और न ही कोई नया दल बनाने का उनका कोई विचार है बल्कि राष्ट्र के सामने जो समस्याएं हैं उसे वह उचित मंच से उठाते रहेंगे।

 सिंह ने जिन्ना को लेकर अपनी पुस्तक में की गई टिप्पणी को उचित ठहराते हुए कहा कि वह हिंदू-मुसलमान के बीच की खाई को पाटने के लिए अपना प्रयास जारी रखेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भाजपा में वापसी पर जसवंत का साफ इंकार