DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दस साल बढ़ाया जाए औद्योगिक पैकेज

विधानसभाध्यक्ष हरबंस कपूर ने विशेष औद्योगिक पैकेज को कम से कम दस साल बढ़ाने की मांग की है। प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह को लिखे पत्र में उन्होंने पैकेज के समाप्त होने पर उत्तराखंड को होने वाले नुकसान का जिक्र किया है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि पैकेज अवधि बढ़ाकर प्रधानमंत्री प्रदेश की जनता को नववर्ष का तोहफा देंगे। विधानसभाध्यक्ष ने पत्र में कहा है कि पैकेज की समय सीमा मार्च 2010 में समाप्त हो रही है। ऐसे में प्रदेश में नए उद्योग भी नहीं लगेगें और स्थापित उद्योगों पर भी बुरा प्रभाव पड़ेगा।

राज्य को वित्तीय हानि के साथ ही इन उद्योगों में कार्य कर रहे स्थानीय युवक बेरोजगार हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि 2003 को औद्योगिक पैकेज देने के बाद कई बड़े औद्योगिक संस्थानों ने उद्योग लगाने के लिए आवेदन दिया था, लेकिन उसमें अधिकांश प्रदूषण मुक्त की श्रेणी में नहीं आते थे। उत्तराखंड में प्रदूषण मुक्त उद्योग की स्थापित किए जा सकते हैं। ऐसे में सीमति संख्या के बड़े औद्योगिक घरानों ने राज्य में निवेश किया।

अधिकांश उद्योग ऐसे में जो विशेष औद्योगिक पैकेज के अंतर्गत दी जाने वाली छूट के बल पर ही चल रहे हैं। विधानसभाध्यक्ष ने राज्य की विषम भौगोलिक परिस्थितियों के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं का भी जिक्र अपने पत्र में किया है। उन्होंने विशेष औद्योगिक पैकेज अवधि दस साल तक बढ़ाने की मांग की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दस साल बढ़ाया जाए औद्योगिक पैकेज