DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एफडी

एफडी निवेश का आकर्षक विकल्प है क्योंकि स्टॉक बाजार में तरलता ज्यादा होने के साथ मुद्रास्फीति का असर भी खत्म हो रहा है। एफडी स्कीम न केवल रिटर्न का पक्का भरोसा देती है बल्कि जोखिम से भी बचाव करती है। इसके साथ सबसे बेहतर बात ये है कि यह निवेश का सुरक्षित विकल्प है। इसके अलावा एफडी का दूसरा बड़ा फायदा ये है कि आपके द्वारा बैंक में जमा किए गए डिपॉजिट का करीब 70 से 90 प्रतिशत तक आप लोन ले सकते हैं।

- विभिन्न बैंकों द्वारा ऑफर की जाने वाली ब्याज दरों के बारे में जानकारी कर लें, क्योंकि बैंकों की ब्याज दरें अलग-अलग होती हैं। इसके अलावा कितनी अवधि के लिए निवेश करने में फायदा है, की भी तफ्तीश कर लें, क्योंकि अलग-अलग अवधि के लिहाज से ब्याज दर अलग-अलग होती है।

- अगर एक वित्तीय वर्ष में एफडी पर दस हजार से ज्यादा का ब्याज कमा रहे हैं तो आपको 10 प्रतिशत टीडीएस देना होगा। अपना टीडीएस बचाने के लिए बेहतर विकल्प ये है कि आप अपना खाता एक बैंक की विभिन्न ब्रांचों में खोलें, जिससे आपका ब्याज दस हजार से ज्यादा नहीं होने पाएगा या फिर आप अपना खाता विभिन्न बैंकों में खोल सकते हैं।

-अगर आप विड्रॉ विकल्प को चुनते हैं तो नियमित अंतराल पर आपके द्वारा अर्जित ब्याज आपके अकाउंट में ट्रांसफर हो जाएगा।

- टैक्स बचाने वाले फिक्स्ड डिपॉजिट के दो फायदे हैं। पहला ये कि आपको रिटर्न का भरोसा होता है। इसके अलावा टैक्स में 80 सी के तहत छूट मिल जाती है। हालांकि टीडीएस तो कटता ही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एफडी