DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दीनी तालीमी बोर्ड को प्रभावी बनाए जाने की मांग

जमीयत उलमा-ए-हिंद के 30वें अधिवेशन में दीनी तालीमी बोर्ड को अधिक प्रभावित और लाभकारी बनाए जाने की जरूरत पर जोर दिया गया। अधिवेशन में पारित प्रस्ताव में कहा गया कि दीनी शिक्षा के पाठ्यक्रम में समरूपता लाई जाए।

बच्चों की योग्यता और क्षमता के अनुसार विभिन्न भाषाओं में और अधिक पाठ्य पुस्तकें एवं अन्य किताबें मुहैया कराई जाए और व्यस्कों के लिए प्रौढ शिक्षा के तहत चलाए जा रहे कार्यक्रमों उसका विस्तार करते हुए मुस्लिम वयस्को को खासतौर से शामिल किया जाए। अधिवेशन में यह भी तय किया गया कि जमीयत के सदस्य दीनी तालीमी बोर्ड के साथ सहयोग करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दीनी तालीमी बोर्ड को प्रभावी बनाए जाने की मांग