DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

थम नहीं रही यूपी से नेपाल को खाद की तस्करी

सरकार की तमाम पाबंदियों के बाद भी यूपी से खाद की तस्करी बदस्तूर जारी है। नतीजतन किसान खाद की किल्लत झेल रहे हैं। किसानों को एनपीके और डीएपी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। प्रदेश में केन्द्र सरकार ने 402 लाख मीट्रिक टन खाद का आवंटन किया है।

सूत्रों के मुताबिक तमाम प्रशासनिक सतर्कता के बावजूद किसानों के लिए मुहैया कराई गई खाद तस्करी से नेपाल ले जाई जा रही है।  इसकी बड़ी वजह वहाँ ज्यादा कीमत मिलना है। बताते हैं कि करीब चौगुने का फर्क है। बहराइच, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, गोरखपुर, श्रवस्ती, गोण्डा, लखीमपुर खीरी और बलरामपुर से नेपाल के लिए खाद की तस्करी हो रही है।

प्रदेश के सहकारिता मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा ने खाद की तस्करी रोकने के कड़े निर्देश दिए हैं। उन्होंने हर हाल में सहकारी समितियों तक खाद पहुँचाने को कहा है। लेकिन ज्यादातर समितियों में खाद समय से नहीं पहुंच रही है। खाद वितरण के लिए पीसीएफ ने एक टीम का गठन किया है जो निगरानी कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:थम नहीं रही यूपी से नेपाल को खाद की तस्करी