DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कार्तिक पूर्णिमा पर गंगा तट पर उमड़ा आस्था का सैलाब

कार्तिक पूर्णिमा पर सोमवार को गंगा घाटों पर आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। लाखों श्रद्धालुओं ने भक्ति भाव से गंगा में डुबकी लगाई। भारी भीड़ के चलते घाटों पर जगह भी नहीं बची थी। स्नान करने के पश्चात श्रद्धालुओं ने घाटों पर दान-पुण्य किया। घाटों पर सुरक्षा के नाम पर कुछ भी नहीं दिखा। जिन पुलिसकर्मियों की डय़ूटी लगाई गई थी वह इधर-उधर बैठकर अपना समय व्यतीत करते दिखें।

कार्तिक पूर्णिमा पर स्नान करने के लिए घाटों पर रविवार की रात से ही श्रद्धालुओं का जमावड़ा था। लोग सुबह का इंतजार करते रहे। भोर होते ही श्रद्धालुओं का हर-हर महादेव के भारी उद्घोष के साथ गंगा स्नान करने का क्रम शुरू हो गया। गंगा स्नान करने वालों में दूर-दराज के ग्रामीण इलाकों से आयी महिलाओं की भीड़ ज्यादा रही। स्नान के पश्चात घाटों पर दान किया गया। भारी भीड़ के चलते गिरजाघर- गोदौलिया से लेकर दशाश्वमेधघाट तक दोपहर बाद भी तीर्थयात्रियों के आने-जाने का क्रम जारी था।

गोदौलिया के पास से दुपहिया वाहनों को आगे नहीं जाने से रोक दिया गया था। कार्तिक पूर्णिमा पर सर्वाधिक भीड़ दशाश्वमेध घाट, डा. राजेन्द्रप्रसाद घाट, प्रयागघाट, शीतलाघाट, सिंधियाघाट, पंचगंगाघाट, गायघाट, त्रिलोचनघाट, राजघाट, प्रह्लादघाट, अस्सी घाट पर रही। आज विधि-विधान से भगवान विष्णु व कार्तिकेय की पूजा की गई। लोगों ने अपनी मनोकामना की पूर्ति के लिए ब्राह्मणों को दान-पुण्य किया। इसके साथ ही घाटों पर दीपक जलाएं गए। शाम को असंख्य दीपक भी सजाए गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कार्तिक पूर्णिमा पर गंगा तट पर उमड़ा आस्था का सैलाब