DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैरीकाम ने भारत के लिए पदक पक्का किया

मैरीकाम ने भारत के लिए पदक पक्का किया

चार बार की विश्व चैम्पियन भारतीय मुक्केबाज एमसी मैरीकाम ने रविवार को यहां तीसरे एशियाई इंडोर खेलों में 46 किग्रा वर्ग में चीन की टिंग लो यूए के खिलाफ शुरूआती राउंड में नाटकीय अंदाज में जीत दर्ज की क्योंकि उन्हें दो बार चेतावनी जारी की गयी। मैरीकाम ने तनावपूर्ण बाउट में 14-9 से जीत दर्ज कर सेमीफाइनल में प्रवेश किया।
     
मैरीकाम और चीन की मुक्केबाज पहले राउंड में 2-2 से बराबर थी, लेकिन इस भारतीय ने अपनी आक्रामकता दिखाते हुए दूसरे राउंड के अंत में 6-2 से बढ़त बना ली। इसी के बाद भारतीय खेमे में हलचल का दौर शुरू हुआ क्योंकि वियतनाम के रैफरी ने तीसरे राउंड में मैरीकाम को सार्वजनिक चेतावनी जारी की जब वह 7-3 से आगे चल रही थी। उसने अपनी प्रतिद्वंद्वी को गर्दन के पीछे वार किया था।
     
स्कोर अब 7-5 हो गया, लेकिन 15 सेकेंड बाद रैफरी ने मैरीकाम को दूसरी चेतावनी दी और इसके दोहराव के बाद उन्हें दो प्वाइंट की पेनल्टी मिली। पेनल्टी के बाद स्कोर 7- 7 हो गया।
     
भारतीय कोच अनूप कुमार और बीसी भट के चेहरों पर तनाव साफ झलक रहा था क्योंकि इन दोनों ने मैरीकाम को और फाउल नहीं करने और अपने प्रतिद्वंद्वी को पंच लगाने पर ध्यान केंद्रीत करने को कहा। चौथे और अंतिम राउंड में मैरीकाम ने वापसी करते हुए चीनी प्रतिद्वंद्वी को पंच लगाकर 14-9 से जीत दर्ज की।

वहीं 51 किग्रा वर्ग में छोटो लौरा ने श्रीलंका की कुमारी निलमिनी को 10-2 से मात दी । छोटो ने शुरू से ही दबदबा कायम रखते हुए अपनी प्रतिद्वंद्वी को वापसी करने का कोई मौका नहीं दिया।

चैम्पियनशिप के 64 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में कविता गोयत ने स्थानीय मुक्केबाज हुओंग निगुयेन थि थियु को 3-2 से हराया। कविता 1-2 से पिछड़ी रही थी, लेकिन उज्बेकिस्तान की रैफरी ने थियू को चेतावनी दी। अगले दो महत्वपूर्ण अंक कविता के पक्ष में रहे और उसने अंत तक अपनी बढ़त कायम रखकर जीत दर्ज की। अब फाइनल में उसका सामना कजाखस्तान की खासेनोवा साइदा से होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मैरीकाम ने भारत के लिए पदक पक्का किया