DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चार-पांच नवबंर से लागू हो सकता है बढ़ा किराया

डीटीसी के बढ़ा किराया चार या पांच नवबंर से लागू हो सकता है। लगातार तीन दिन की छुट्टियों के चलते सरकार अभी तक इसकी अधिसूचना जारी नहीं कर पाई है। इस दौरान पास धारक पुरानी दरों पर ही पास का लाभ उठा सकते हैं। अधिसूचना के बाद ही बढ़ा किराया डीटीसी के अलावा ब्लू-लाइन बसों पर लागू होगा।

दिल्ली सरकार ने 26 अक्टूबर को मंत्रिमंडल की बैठक में डीटीसी के किराए 50 से 70 फीसदी तक बढ़ाने की घोषणा की थी और इन्हें पहली नवंबर से लागू करने का फैसला लिया था, लेकिन तीन दिन की छुट्टी के कारण फिलहाल किराया बढ़ाना सरकार के लिए संभव नहीं है। बढ़े किराए की अभी तक सरकार की तरफ से डीटीसी को अधिकृत सूचना भी नहीं दी गई है। मंगलवार को दफ्तर खुलने पर पहले सरकार डीटीसी की इसकी सूचना देगी और इसके बाद डीटीसी इसे अधिसूचना के लिए उप राज्यपाल के पास भेजेगी जिसके चलते किराए की दरें चार या पांच नवबंर से पहले लागू करना संभव नहीं है।

इस दौरान नई टिकटों की प्रिटिंग का काम होना है और ड्राइवरों व कंडक्टरों को नए किराए के बारे में ट्रेनिग दी जानी है। किराए के चार्ट को भी अंतिम रूप देना है कि किस स्टॉप से किस स्टॉप तक कितना किराया रहेगा। यह सारी कसरत होने के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी।

गौरतलब है कि सरकार ने छात्रों के पास में भी कई गुना बढ़ोतरी कर दी जिसका चौतरफा विरोध हुआ है। सरकार की दलील थी कि डीटीसी का घाटा करीब 575 करोड़ रुपए है, जो किराए की बढ़ोतरी के बाद घटकर 175 करोड़ रह जाएगा। लोगों का कहना है कि सरकार क्या मुनाफे के लिए चलाई जाती है? क्या उसकी कोई सामाजिक जिम्मेदारी नहीं है? और अगर ऐसा है, तो फिर निजी क्षेत्र व सरकार में क्या अंतर रह जाएगा?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चार-पांच नवबंर से लागू हो सकता है बढ़ा किराया